भूमि अधिग्रहण बिल राज्य हित में नहीं : शिबू सोरेन

खरसावां/रांची : भूमि अधिग्रहण बिल झारखंड के आदिवासी-मूलवासियों के हित में नहीं है. इस कानून से झारखंड के आदिवासी- मूलवासियों के अस्तित्व पर संकट आ जायेगा. भूमि अधिग्रहण बिल रद्द करने के लिए सड़क से सदन तक विरोध किया जायेगा. पूर्वजों के बलिदान को व्यर्थ जाने नहीं देंगे.

उक्त बातें झामुमो अध्यक्ष सह पूर्व मुख्यमंत्री शिबू सोरेन ने कही. वे सोमवार को खरसावां शहीद स्थल पर श्रद्धांजलि देने के बाद आदि संस्कृति व विज्ञान संस्थान की संकल्प सभा में बोल रहे थे.

लंबी लड़ाई के बाद मिला झारखंड, सचेत रहें लोग
शिबू सोरेन ने कहा कि लंबी लड़ाई के बाद झारखंड राज्य बना. झारखंड खनिजों से परिपूर्ण राज्य है. इसके बावजूद यहां के लोग गरीब हैं. उन्होंने लोगों से सचेत रहने की अपील की.

कार्यक्रम को सरायकेला विधायक चंपई सोरेन, खरसावां विधायक दशरथ गागराई, चाईबासा विधायक दीपक बिरुवा, बहरागोड़ा विधायक कुणाल षाड़ंगी, चक्रधरपुर विधायक शशिभूषण सामड, पूर्व विधायक मंगल सिंह बोबोंगा, विनोद पांडेय, आदि संस्कृति एवं विज्ञान संस्थान के अध्यक्ष दामोदर हांसदा, गुरुचरण बांकिरा, बाबूराम सोय, सतीश चंद्र बिरुली, सोहन लाल कुम्हार, सुनिया मुंडा, राधाकृष्ण मुंडा, रजब अली समेत विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने संबोधित किया. कार्यक्रम की अध्यक्षता दामोदर सिंह हांसदा ने की व संचालन गुरुचरण बांकिरा ने किया. संकल्प सभा में हजारों की संख्या में लोग पहुंचे थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *