बेंगलुरु: रेस्टोरेंट में लगी आग, 5 लोगों की मौत

नई दिल्ली: कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु के एक रेस्टोरेंट में भीषण आग लगने के कारण 5 लोगों की मौत हो गई. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, केआर मार्केट में स्थित कैलाश बार रेस्टोरेंट में देर रात करीब ढाई बजे आग लग गई. हादसे के वक्त रेस्टोरेंट के 5 कर्मचारी अंदर ही सोए हुए थे और आग में झुलस कर उनकी मौत हो गई.रेस्ट्रां और बार में आग लगने की घटनाएं रुकने के नाम नहीं ले रही हैं.स्थानीय लोगों ने रेस्टोरेंट के अंदर से धुआं निकलत देख दमकल ऑफिस को फोन कर इसकी जानकारी दी. आग की खबर मिलते ही फायर ब्रिगेड की पांच गाड़ियां तुरंत मौके पर पहुंचीं और आग पर काबू पा लिया, लेकिन बार के अंदर सो रहे कर्मचारियों की जान बचा न सके.

गौरतलब है कि इससे पहले रही हैं. मुंबई के बाद अब बेंगलुरु के कैलाश बार-रेस्ट्रां में आग लगने से 5 लोगों की जान चली गई. गुरुवार की देर रात मुंबई के कमला मिल्‍‍स कंपाउंड में लगी भीषण आग में कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई, जबकि करीब 19 लोग घायल हुए हैं. मृतकों की पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट में बताया गया है कि सभी की मौत दम घुटने की वजह से हुई है. घायलों में कई की हालात गंभीर बताई जा रही है. पुलिस ने इस अग्निकांड में गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने रेस्टोरेंट के मालिक के. सांघवी, जी. सांघवी और अभिजीत मंकर के खिलाफ मामला दर्ज किया है. हालांकि अभी तक किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है. एक ट्वीट में उन्होंने कहा कि दुख की इस घड़ी में वे पीड़ित परिवारों के साथ हैं तथा घायलों के जल्दी स्वस्थ होने की कामना करते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है.

पुलिस के मुताबिक, यह हादसा गुरुवार देर रात करीब 12.30 बजे कमला मिल कंपाउंड स्थित मोजो बिस्ट्रो में हुआ, जि‍समें अचानक आग लग गई. देखते ही देखते यह आग पूरे परिसर में फैल गई. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची दमकल की 8 गाड़ियों, 6 वाटर टैंक और अन्य उपकरणों की मदद से दो से अधिक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका. इस हादसे में मारे गए लोगों में ज्यादातर महिलाएं हैं. आग इतनी भीषण थी कि इससे टेरेस बार पूरी तरह से ख़ाक हो चुका है.

आशंका जताई जा रही है कि रेस्टोरेंट में आग शॉर्ट सर्किट की वज़ह से लगी. घायलों को KEM अस्पताल और ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. मृतकों का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर राजेश डेरे ने बताया कि सभी मृतकों की मौत दम घुटने से हुई है.

शहरी निकाय के एक अधिकारी ने बताया कि सेनापति बापट मार्ग पर स्थित एक चार मंजिला इमारत की तीसरी मंजिल पर आधी रात के बाद आग लग गई. यह इलाका मुंबई का महत्वपूर्ण व्यावसायिक क्षेत्र है. बीएमसी के आपदा प्रबंधन इकाई के अधिकारियों ने बताया कि घायलों को केईएम और सियोन अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *