अस्पताल व अनाथालय के लिए पांच एकड़ जमीन देगी झारखंड सरकार

रांची : श्रीकृष्ण प्रणामी सेवा धाम ट्रस्ट की ओर से रविवार को मारवाड़ी भवन में 108 जोड़ों का सामूहिक विवाह कराया गया. कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की. समारोह में शामिल लोगों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने ट्रस्ट के कार्यों की जमकर सराहना की.

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में बड़ी आबादी गरीब है. उन्हें अपने बच्चों की शादी की चिंता है. राज्य में 18 हजार अनाथ बच्चे हैं. इनके जिंदगी में बदलाव लाना है. समाज और सरकार साथ मिलकर काम करें, तभी इन्हें विकास की धारा में ला सकते हैं. श्री कृष्ण प्रणामी सेवा धाम ट्रस्ट जैसी संस्थाएं और समाज के धनी लोग इसके लिए आगे आयें. सरकार पूरी तरह से सहयोग करेगी.

हमारी सरकार, गरीबाें की सरकार : मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार गरीबाें की सरकार है. इसलिए सरकार ऐसे गरीब बच्चों के सामूहिक विवाह पर 30 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रति जोड़े को दे रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने भी गरीबी देखी है, इसलिए गरीबों का दर्द जानते हैं.

आर्थिक रूप से कमजोर माता-पिता को अपने बच्चों की शादी के लिए जमीन-जायदाद, गहने आदि भी गिरवी रखने पड़ते हैं. इस तरह के आयोजनों से आर्थिक रूप से कमजोर अभिभावकों को एक बल मिलेगा. हमें इस प्रकार के कार्यक्रम का आयोजन पूरे राज्य में करने की जरूरत है.

सरकार के सहयोग पर आभार जताया : कार्यक्रम में उपस्थित ट्रस्ट के संरक्षक स्वामी सदानंद जी महाराज ने सरकार के इस सहयोग पर आभार प्रकट किया. उन्होंने कहा कि 24 जुलाई को एक ओर सामूहिक विवाह कार्यक्रम झारखंड में किया जायेगा. साथ ही झारखंड की गरीब कन्याओं के विवाह कराने और अनाथ बच्चों को पढ़ाने की जिम्मेवारी भी हम उठाने को तैयार हैं.

स्वागत योग्य है ट्रस्ट का कदम : कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि ट्रस्ट के इन कार्यों की जितनी भी सराहना की जाये, कम है. ट्रस्ट पहले भी दिव्यांग बच्चों के लिए कई प्रकार के उपकरण देता रहा है. कार्यक्रम को डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय, संस्था के अध्यक्ष डुंगरमल अग्रवाल, संत श्री मोहन प्रियाचार्य ने भी संबोधित किया.

सभी को दिये गये जरूरी सामान : विधि-विधान के साथ आयोजित किये गये इस शादी समारोह में सभी जोड़ों को घर चलाने के लिए जरूरत के सभी सामान दिये गये. इस दौरान ट्रस्ट के सदस्यों व कई गणमान्य लोगों द्वारा हर जोड़ों को आर्थिक रूप से भी मदद दी गयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *