डोनाल्ड ट्रंप की अपमानजनक टिप्पणी ‘नस्लभेदी’ : संयुक्त राष्ट्र

जेनेवा: संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय ने अल-सल्वाडोर, हैती व कुछ अन्य अफ्रीकी देशों के बारे में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की अपमानजनक टिप्पणी को ‘नस्लभेदी’ करार दिया है. समाचार एजेंसी एफे न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार उच्चायुक्त के प्रवक्ता रुपर्ट कोलविले ने इन दोनों देशों को ट्रंप द्वारा गंदा कहे जाने की निंदा की. ट्रंप ने यह टिप्पणी सांसदों के साथ आव्रजन संबंधी एक बैठक में की थी. कोलविले ने कहा, ‘अमेरिका के राष्ट्रपति की यह टिप्पणी आश्चर्यजनक और शर्मनाक है. अफसोस के साथ मुझे कहना पड़ रहा है कि यह नस्लवादी के अलावा और कुछ नहीं है.’

ओवल आफिस में हुई इस बैठक में मौजूद लोगों के मुताबिक, ट्रंप इस बात को लेकर हताश थे कि अल-सल्वाडोर, हैती और कुछ खास अफ्रीकी देशों के आव्रजकों को अमेरिका आने दिया जा रहा है.

ओवल आफिस में हुई इस बैठक में मौजूद लोगों के मुताबिक, ट्रंप इस बात को लेकर हताश थे कि अल-सल्वाडोर, हैती और कुछ खास अफ्रीकी देशों के आव्रजकों को अमेरिका आने दिया जा रहा है. कहा जा रहा है कि ट्रंप ने कहा, ‘आखिर इन गंदे देशों के इन तमाम लोगों को हम अपने यहां क्यों आने दे रहे हैं. हमें हैती के और लोगों की क्या जरूरत है. उन्हें निकाल बाहर करें.’ट्रंप ने यह भी कहा कि अमेरिका को नार्वे जैसे देशों के आव्रजकों का स्वागत करना चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *