लोक सुराज अभियान 2018 : प्रथम चरण के दूसरे दिन मुख्यमंत्री अचानक पहुंचे ग्राम खैरा

चौपाल में अटल समरसता भवन और मिनी स्टेडियम की घोषणा

रायपुर:मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेशव्यापी लोक सुराज अभियान के तीन दिवसीय प्रथम चरण के दूसरे दिन आज बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के ग्राम खैरा में अचानक पहुंचकर आवेदन संकलन शिविर को देखा और ग्रामीणों को संबोधित किया। शिविर में 43 आवेदन प्राप्त हो चुके थे।

डॉ. सिंह ने खैरा में अटल समरसता भवन और मिनी स्टेडियम निर्माण की मांग तत्काल मंजूर करने की घोषणा की। उन्होंने अटल समरसता भवन के लिए बीस लाख रूपए और मिनी स्टेडियम निर्माण के लिए 40 लाख रूपए मंजूर करने का भी ऐलान किया। उन्होंने यह भी कहा कि खैरा के एक सौ परिवारों को एक माह के भीतर आबादी पट्टा दे दिया जाएगा।

डॉ. सिंह ने इस बात पर खुशी जताई कि ग्राम खैरा में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत 378 घरों को कनेक्शन दिए जा चुके हैं। उन्होंने किसानों को बताया कि बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के सूखा प्रभावित किसानों की मदद के लिए जिलों को पहली किश्त में 25 करोड़ रूपए दिए जा चुके हैं। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि राजस्व पुस्तक परिपत्र (आरबीसी) 6-4 के तहत इस राशि का वितरण एक माह के भीतर कर दिया जाए।

उल्लेखनीय है कि अभियान का पहला चरण कल 12 जनवरी से शुरू हो गया है, जो 14 जनवरी तक चलेगा। इस अवधि में तीन दिनों तक ग्राम पंचायतों और नगरीय निकायों के स्तर पर जनता से आवेदन पत्र संकलित किए जा रहे हैं। इसके लिए समाधान पेटियां लगाई गई है। मुख्यमंत्री आज संभागीय मुख्यालय बिलासपुर के कार्यक्रमों के बाद हेलीकॉप्टर में सीधे इस गांव में पहुंचे। वहां उन्होंने पेड़ के नीचे चौपाल में ग्रामीणों से बातचीत करते हुए इस वर्ष के लोक सुराज अभियान के बारे में भी बताया।

डॉ. सिंह ने ग्रामीणों को बताया कि आवेदन पत्रों को संकलित करने के बाद दूसरे चरण में 15 जनवरी से 11 मार्च तक लगभग दो माह की अवधि में संबंधित विभागों द्वारा उनका निराकरण किया जाएगा। इसके बाद तीसरे चरण में 12 मार्च से 31 मार्च तक प्रदेश में प्रत्येक दस गांवों के बीच समाधान शिविर होंगे। शहरी क्षेत्रों में भी समाधान शिविर लगाए जाएंगे। इस दौरान मैं स्वयं और प्रदेश सरकार के मंत्रिगण तथा मुख्य सचिव, प्रभारी सचिव और अन्य वरिष्ठ अधिकारी गांवों तथा शहरों का दौरा करते हुए योजनाओं और समस्याओं का जायजा लेंगे। लोगों को उनके आवेदन पत्रों के निराकरण की जानकारी समाधान शिविरों में दी जाएगी। मैं स्वयं आकस्मिक रूप से गांवों का दौरा करूंगा। डॉ. सिंह ने ग्राम खैरा में उपस्थित अधिकारियों को लोक सुराज अभियान के तहत प्राप्त होने वाले आवेदन पत्रों को गंभीरता से लेने और सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ उनका निराकरण करने के निर्देश दिए।

सड़क किनारे फूलों की क्यारी देख खुश हुए मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री ने इस दौरान खैरा में सड़क के किनारे फूल-पौधों की क्यारी देखकर काफी खुशी जताई और कहा कि मैंने ऐसा गांव पहली बार देखा, जहां ग्रामीणों ने सड़क के किनारे भी सुन्दर बगीचे के रूप में गेंदे और अन्य किस्मों के फूलों के पौधे लगाए हैं। यह पर्यावरण और हरियाली के प्रति इस गांव के लोगों की जागरूकता का परिचायक है। डॉ. सिंह ने खैरा के इन बगीचों के लिए मोंगरा और रातरानी के सौ-सौ पौधे जल्द भिजवाने का वायदा किया। चौपाल में मुख्यमंत्री के साथ भाटापारा क्षेत्र के विधायक श्री शिवरतन शर्मा और जिले के अन्य वरिष्ठ जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *