रायपुर : मुख्य सचिव ने की ऊर्जा विभाग के काम-काज की समीक्षा

रायपुर : मुख्य सचिव श्री अजय सिंह ने आज यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में ऊर्जा विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर काम-काज की समीक्षा की। बैठक में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर (सौभाग्य) योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण विद्युतीकरण योजना, कृषक जीवन ज्योति योजना, सौर सुजला योजना सहित विभाग की विभिन्न योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की गयी। उन्होंने ग्रामीण विद्युतीकरण के कार्यो में और अधिक तेजी लाने के निर्देश बैठक में उपस्थित अधिकारियों को दिए।

बैठक में ऊर्जा विभाग के विशेष सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने प्रस्तुतिकरण के जरिये योजनाओं की प्रगति की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण पूर्ण विद्युतीकरण योजना के तहत चालू वित्तीय वर्ष 2017-18 में अब तक दो हजार 497 गांवों का विद्युतीकरण हो चुका है। उन्होंने बताया कि सौभाग्य योजना के तहत मार्च 2019 तक ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में शत-प्रतिशत विद्युतीकरण का लक्ष्य है।

इस योजना के तहत प्रदेश में सवा नौ लाख विद्युत कनेक्शन देने का लक्ष्य है। इस योजना की शुरूआत 25 सितम्बर 2017 को की गयी है। अब तक 41 हजार 209 कनेक्शन दिए जा चुके है। योजना के तहत हर महीने एक लाख कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि सौर सुजला योजना के तहत चालू वित्तीय माह 2017-18 में अब तक आठ हजार 726 पम्प लगाये गए है।

इस योजना के तहत सितम्बर 2018 तक 25 हजार पम्प लगाने का लक्ष्य है। बैठक में मुख्यमंत्री ऊर्जा प्रवाह योजना और मुख्यमंत्री ऊर्जा शक्ति योजना के तहत विद्युत उत्पादन एवं लाइन विस्तार सहित स्कूलों, प्राथमिक स्वास्थ्य और आंगनबाड़ी केन्द्रों में विद्युतीकरण की जानकारी दी गयी। बैठक में ऊर्जा विभाग के विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी श्री एम.एस.रत्नम एवं क्रेडा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अंकित आनंद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *