हमर छत्तीसगढ़ योजना : कमजोर तबके के लिए निःशुल्क विधिक सहायता

रायपुर:हमर छतीसगढ़ योजना में अध्ययन भ्रमण पर आए पंच-सरपंचों को सरकार की विभिन्न योजनाओं एवं निःशुल्क विधिक सहायता के बारे में बताया गया। योजना के आवासीय परिसर, नया रायपुर के उपरवारा स्थित होटल प्रबंधन संस्थान में पंचायत प्रतिनिधियों ने अध्ययन प्रवास के दोनों दिन प्रशिक्षण एवं समूह चर्चा में हिस्सा लिया। राजनांदगांव, बिलासपुर और गरियाबंद के 538 पंच-सरपंच राजधानी की अध्ययन यात्रा पर आए हुए हैं। इनमें गरियाबंद के 211, राजनांदगांव के 165 एवं बिलासपुर के 162 पंचायत प्रतिनिधि शामिल हैं।

जिला विधिक प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ता श्री साहिर लुधियानवी खान ने पंच-सरपंचों को जानकारी दी कि आर्थिक रूप से कमजोर तबकों को शासन निःशुल्क विधिक सहायता मुहैया कराती है। इस तबके का कोई व्यक्ति अदालती मामले में अगर वकील का खर्चा उठाने में असमर्थ रहता है तो उसे विधिक सहायता प्राधिकरण द्वारा नि:शुल्क अधिवक्ता उपलब्ध कराया जाता है। उन्होंने बताया कि इसके लिए जिला, संभाग, उच्च न्यायालय एवं उच्चतम न्यायालय स्तर तक अधिवक्ताओं का पैनल नियुक्त किया गया है।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के सहायक विकास विस्तार अधिकारी श्री विजय साहू ने पंचायत प्रतिनिधियों को हमर छतीसगढ़ योजना के उद्देश्यों के बारे में बताया। उन्होंने योजना के तहत भ्रमण कराए जाने वाली जगहों के बारे में भी जानकारी दी। विकास विस्तार अधिकारी श्री चंद्रशेखर शर्मा तथा सहायक विकास विस्तार अधिकारी श्री उदय राम कामड़े ने पंच-सरपंचों को शासन की विभिन्न योजनाओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने योजनाओं के संबंध में उनकी जिज्ञासा एवं सवालों के भी जवाब दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *