मोदी आज अबू धाबी में पहले हिंदू मंदिर की रखेंगे आधारशिला

अबू धाबी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फिलिस्तीन के बाद रविवार को अपने द्विपक्षीय दौरे पर संयुक्त अरब अमीरात (UAE) की राजधानी अबू धाबी पहुंच गए हैं. यहां पीएम मोदी सुबह 09: 30 बजे वाहत अल करमा जाएंगे और श्रद्धांजलि देंगे. इसके बाद अबू धाबी में पहले हिंदू मंदिर की आधारशिला रखेंगे. यहां भारतीय मूल के 30 लाख से ज्यादा लोग रहते हैं.

UEA में पीएम मोदी खाड़ी देशों के शीर्ष कार्यकारी अधिकारियों से मुलाकात करेंगे और मोदी वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट (WGS) में हिस्सा लेंगे. साथ ही UEA के राष्ट्र प्रमुख के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. पीएम मोदी का यह दौरा बेहद अहम खास है. इससे पहले शनिवार रात मंदिर समिति के सदस्यों ने मंदिर से जुड़ा साहित्य प्रधानमंत्री मोदी को भेंट किया.

प्रधानमंत्री मोदी UEA की साल 2015 की अपनी यात्रा के बाद दूसरी बार यहां आए हैं. पीएम मोदी दुबई के ओपेरा हाउस से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मंदिर की आधारशिला रखेंगे. वह वहां भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित भी करेंगे. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ”दुबई-अबू धाबी राजमार्ग पर बनने वाला यह अबू धाबी का पहला पत्थर से निर्मित मंदिर होगा.”

UEA में भारत के राजदूत नवदीप सिंह सूरी ने कहा, ”अबू धाबी में प्रथम हिंदू मंदिर 55 हजार वर्ग मीटर भूमि पर बनेगा और रविवार को होने वाला इसका शिलान्यास ऐतिहासिक होगा. हम बहुत खुश हैं कि हमें दुबई-अबू धाबी शेख जाएद हाईवे पर अल-रहबा के किनारे पर 55 हजार वर्ग किलोमीटर की जमीन मुहैया कराई गई है.”

सूरी ने कहा कि रविवार को आप शिलान्यास समारोह देखेंगे, जो दुबई ओपेरा हाउस से होगा. यह परंपरा का प्रौद्योगिकी से मिलना है. उन्होंने बताया कि मोदी दुबई ओपेरा हाउस में भारतीय समुदाय के साथ एक बैठक करेंगे. इस मंदिर का निर्माण भारतीय शिल्पकार कर रहे हैं. यह साल 2020 में पूरा होगा.

बोचासनवासी श्री अक्षर पुरषोत्तम स्वामीनारायण संस्था (बीएपीएस) के प्रवक्ता ने बताया कि पश्चिम एशिया में पत्थरों से बना यह पहला हिंदू मंदिर होगा. खलीज टाइम्स ने ट्रस्ट के एक सदस्य के हवाले से बताया कि यह दिल्ली में बने बीएपीएस मंदिर और न्यू जर्सी में बन रहे मंदिर की प्रतिकृति होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *