जापान यात्रा से स्वदेश लौटे नीतीश कुमार

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जापान की यात्रा पूरी कर गुरुवार की मध्यरात्रि को स्वदेश लौट आये. चार दिनों के अपने जापान दौरे पर बिहार और जापान के बीच आपसी संबंधों के साथ कई प्रस्तावों पर सीएम ने चर्चा की.

इसमें पर्यटन, कृषि, खाद्य प्रसंस्करण की अपार संभावनाओं पर चर्चा की गयी. उन्होंने हाई स्पीड रेल लिंक पर चर्चा की. इसके माध्यम से बुद्ध सर्किट को जोड़ा जाना है. साथ ही उसे पीस कॉरिडोर के रूप में विकसित किया जाना है.

इसमें मुख्यमंत्री ने जापान के तकनीकी सहयोग की अपेक्षा जतायी.

जापान दौरे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जापान के प्रधानमंत्री के शिंजो आवे के साथ मुलाकात में दोनों देशों के बीच मैत्रीपूर्ण रिश्तों पर चर्चा की.

जापान इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एजेंसी (जेआईसीके) के माध्यम से पटना को गया, बोधगया, राजगीर, नालंदा को जोड़ने का काम चल रहा है. इसका विस्तार कर वैशाली तक बढ़ाने की आवश्यकता पर बल दिया.

मुख्यमंत्री ने पटना मेट्रो की डीपीआर व नालंदा विश्वद्यालय में जापान के सहयोग को लेकर उनके मंत्रिमंडल सहयोगियों के साथ विस्तार से चर्चा की. इस दौरान उन्होंने विदेश तारो कोनो से भी मुलाकात की.

बिहार से जापान के बीच सीधी विमान सेवा के संबंध में भी चर्चा हुई. इसमें मुख्यमंत्री ने जापान के नारा प्रांत और बिहार के आपसी संबंधों को मजबूत करने के लिए सिस्टर स्टेट के रूप में विकसित करने पर चर्चा की गयी. इससे दोनों देशों के पर्यटक यात्रा कर सकेंगे.

प्रवास के दौरान अंतरराष्ट्रीय हाई स्पीड रेलवे एसोसिएशन के अध्यक्ष मासाफुमी शुकुरी से भारतीय दूतावास में मुलाकात की. मासाफुमी शुकुरी के साथ मुख्यमंत्री की बुद्धिस्ट केंद्रों को जोड़ते हुए पीस कॉरिडोर के रूप में विकसित करने पर चर्चा की गयी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *