महादेव घाट में इस माह खूबसूरत उद्यान और लक्ष्मण झूले की मिलेगी सौगात जल संसाधन मंत्री श्री अग्रवाल ने किया अवलोकन

 रायपुर, / राजधानी रायपुर के नजदीक खारून नदी के तट पर स्थित प्रसिद्ध धार्मिक स्थल महादेवघाट में इस महीने लोगों को खूबसूरत उद्यान और लक्ष्मण झूले की सौगात मिलेगी। जल संसाधन मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने आज शाम उद्यान और लक्ष्मण झूले का अवलोकन किया और जनता को समर्पित करने के लिए कार्यक्रम आयोजित करने अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए। श्री अग्रवाल ने महादेवघाट में दुर्ग जिले के हिस्से में विकसित उद्यान का अवलोकन किया। उन्होंने लक्ष्मण झूले में चल कर निरीक्षण किया। इस अवसर पर जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक दुर्ग के अध्यक्ष श्री प्रीतपाल बेलचंदन, रायपुर नगर निगम के पार्षद द्वय श्री दीनबंधु ठाकुर, श्री यादराम साहू सहित अन्य जनप्रतिनिधि श्री संजू नारायण सिंह ठाकुर, डॉ. बिहारी लाल साहू, श्री मुकेश पंजवानी भी  उपस्थित थे।
जल संसाधन मंत्री श्री अग्रवाल ने अधिकारियों को भाटागांव एनीकट से कुम्हारी एनीकट तक खारून नदी की साफ-सफाई करने के लिए कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि महादेव घाट के आसपास के पूरे हिस्से को विकसित करने के लिए प्रस्ताव बनाया जाए। नदी तट पर विकसित उद्यान में लक्ष्मण झूले से होकर भी पहुंचा जा सकता है। जल संसाधन मंत्री ने मौके पर उपस्थित दुर्ग कलेक्टर श्री उमेश अग्रवाल को दुर्ग जिले की ओर से उद्यान में आने-जाने के लिए दो नये रास्ते बनाने के लिए कार्रवाई करने के निर्देश दिए। जल संसाधन मंत्री ने दुर्ग कलेक्टर को लोकार्पण समारोह की तैयारियां शुरू करने के निर्देश भी दिए। श्री अग्रवाल ने उद्यान में आने वाले लोगों की सुविधा के लिए एक रेस्ट हाउस बनाने तथा उद्यान में लाईट की समुचित व्यवस्था करने के लिए भी अधिकारियों को निर्देशित किया।
महादेवघाट पर दुर्ग जिले के छोर में रिवर फ्रन्ट पर करीब 900 मीटर लंबा उद्यान विकसित कर लिया गया है। घाट पर लक्ष्मण झूला बन कर तैयार है। महादेवघाट के सौंदर्यीकरण और लक्ष्मण झूला बनाने का काम जल संसाधन विभाग द्वारा किया गया है। लगभग छह करोड़ 10 लाख रूपए की लागत से 150 मीटर लक्ष्मण झूला बनाया गया है। इसमें से 90 मीटर का हिस्सा सस्पेंशन होगा। दुर्ग जिले के हिस्से में रिवर फ्रंट पर 900 मीटर में उद्यान बनकर तैयार है। उद्यान में पेडस्टेन ट्रेक, एक्वाप्रेशर ट्रेक और गोल्फकार्ट ट्रेक बनाए गए हैं। उद्यान में बच्चों के मनोरंजन के लिए कई प्रकार के झूले लगाए गए हैं। एक कैफेटेरिया का निर्माण भी यहां पर्यटकों की सुविधा के लिए किया गया है। एक्सरसाइज और योगाभ्यास के लिए अलग-अलग ट्रेक बने हुए हैं। इस अवसर पर दुर्ग जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. संजीव शुक्ला, रायपुर नगर निगम के आयुक्त श्री रजत बंसल, जल संसाधन विभाग के प्रमुख अभियंता श्री एच.आर. कुटारे सहित रायपुर और दुर्ग जिले के विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *