श्रमिकों के जीवन को खुशहाल बनाने सरकार वचनबद्ध: डॉ. रमन सिंह

रायपुर,मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज शाम विकास यात्रा के अपने तूफानी दौरा कार्यक्रमों के तहत जिला मुख्यालय कोरबा पहुंचकर रोड शो में शामिल हुए। उन्होंने विशाल आमसभा में जनता को सम्बोधित करते हुए कहा कि कोरबा मेहनतकश किसानों और मजदूरों का जिला है। जिला मुख्यालय कोरबा श्रमवीरों का शहर है और विद्युत संयंत्रों ने इस जिले को देश के प्रमुख औद्योगिक तीर्थ के रूप में पहचान दिलाई है। प्रदेश सरकार श्रमिकों की सामाजिक आर्थिक बेहतरी के लिए और उनके जीवन को खुशहाल बनाने के लिए वचनबद्ध है।
मुख्यमंत्री ने कहा-राज्य सरकार ने श्रमिकों के कल्याण के लिए श्रम विभाग के माध्यम से कई योजनाओं की शुरूआत की है। श्रमवीरों की नगरी कोरबा के मेहनतकशों को भी इन योजनाओं का लाभ मिल सकता है। इनमें साईकिल और सिलाई मशीन योजना, औजार सहायता योजना, स्वास्थ्य बीमा योजना, दीनदयाल श्रम अन्न सहायता योजना विशेष रूप से उल्लेखनीय है। डॉ. सिंह ने प्रदेश व्यापी विकास यात्रा को विश्वास यात्रा और जनता जनार्दन से आशीर्वाद लेने के लिए तीर्थ यात्रा की संज्ञा दी। उन्होंने राज्य और केन्द्र सरकार की अनेक योजनाओं का विस्तार से उल्लेख किया और सभी जरूरतमंद लोगों से इनका लाभ लेने की अपील की।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कोरबा जिले के विकास के लिए जनता को लगभग 237 करोड़ रूपए के 26 निर्माण कार्यों की सौगात दी। डॉ. सिंह ने इनमें से पूर्ण हो चुके आठ निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया, जिनकी लागत करीब 142 करोड़ रूपए है। उन्होंने 94 करोड़ 89 लाख रूपए के 18 नये स्वीकृत निर्माण कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री के हाथों लोकार्पित निर्माण कार्यों में कोरबा नगर निगम के लिए 133 करोड़ 34 लाख रूपए की लागत से निर्मित पेयजल प्रदाय योजना भी शामिल है। उन्होंने शासन की विभिन्न योजनाओं के तहत 22 हजार से ज्यादा हितग्राहियों को सामग्री और सहायता राशि के चेक आदि का वितरण किया। किसानों को मुख्यमंत्री ने वर्ष 2017 के धान के लिए 29 करोड़ 35 लाख रूपए का बोनस ऑनलाइन जारी किया। लैपटाप पर क्लिक करते ही यह राशि किसानों के बैंक खातों में ऑनलाइन हस्तांतरित हो गई।
डॉ. सिंह ने वहां के शासकीय पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए दो करोड़ 72 लाख रूपए की लागत से निर्मित 100 बिस्तरों के छात्रावास का और एक करोड़ 39 लाख रूपए की लागत से निर्मित ऑडिटोरियम तथा एक करोड़ 40 लाख रूपए के आठ अतिरिक्त कमरों का भी लोकार्पण किया। डॉ. सिंह ने कोरबा के लाइवलीहुड कॉलेज के विद्यार्थियों को एक करोड़ 58 लाख रूपए की लागत से निर्मित 100 सीटों का छात्रावास भवन भी समर्पित किया। उन्होंने कुष्ठ पीडि़तों के लिए एक करोड़ 18 लाख रूपए की लागत से निर्मित मकानों का भी लोकार्पण किया। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन और विकास मंत्री श्री अमर अग्रवाल, लोक निर्माण, आवास और पर्यावरण मंत्री श्री राजेश मूणत, संसदीय सचिव श्री लखनलाल देवांगन, लोकसभा सांसद डॉ. बंशीलाल महतो सहित कई जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री ने आमसभा में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना का उल्लेख करते हुए इसे देश और दुनिया के गरीबों के लिए सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना बताया। डॉ. सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ के लगभग 37 लाख गरीब परिवारों को इस योजना का लाभ मिलेगा। किडनी, हृदय रोग, कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए मरीजों को पांच लाख रूपए तक स्वास्थ्य बीमा की सुविधा मिलेगी। डॉ. सिंह ने विकास यात्रा का उल्लेख करते हुए कहा कि यात्रा के दौरान प्रदेश के किसानों को धान का बोनस दिया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में आबादी जमीन के पट्टे दिए जा रहे हैं। विभिन्न योजनाओं में जरूरतमंद हितग्राहियों को सामग्री और सहायता राशि के चेक भी दिए जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *