ब्रिटेन में शरण लेने की फिराक़ में नीरव मोदी

ब्रिटेन के एक प्रतिष्ठित अख़बार ने दावा किया है कि पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के मुख्य अभियुक्त हीरा व्यापारी नीरव मोदी ने ब्रिटेन में राजनीतिक शरण मांगी है.अख़बार ‘फाइनेंशियल टाइम्स’ के मुताबिक, भारत और ब्रिटेन के अधिकारियों ने नीरव मोदी के ब्रिटेन में होने की पुष्टि की है.नीरव मोदी 13 हज़ार करोड़ रुपये से भी ज़्यादा के पीएनबी घोटाले के मुख्य अभियुक्त हैं.समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक ब्रिटेन के गृह मंत्रालय का इस बारे में कहना है कि वह व्यक्ति विशेष के बारे में जानकारी नहीं देता.भारत के सबसे बड़े बैंक घोटाले में वांछित नीरव मोदी फ़रवरी से लापता हैं और भारतीय जांच एजेंसियों को उनकी तलाश है.अख़बार ने लिखा है कि नीरव मोदी ने ये कहते हुए ब्रिटेन से राजनीतिक शरण मांगी है कि उनका राजनीतिक उत्पीड़न किया जा रहा है. रॉयटर्स ने लिखा है कि उन्होंने नीरव मोदी से बात करने की कोशिश की, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका.
भारतीय अदालतों में वांछित एक और कारोबारी विजय माल्या भी लंदन में हैं, जिन्हें वापस लाने को लेकर भारत सरकार पहले से ही दबाव का सामना कर रही है.
पंजाब नेशनल बैंक घोटाला उजागर होने और नीरव मोदी के भारत छोड़ जाने के बाद सरकार ने उनका पासपोर्ट रद्द कर दिया था. केंद्रीय जांच एजेंसियों ने भी उनके लिए लुकआउट नोटिस जारी किया था.नीरव मोदी के डिजाइनर जूलरी बूटीक लंदन, न्यूयॉर्क, लास वेगास, हवाई, सिंगापुर, बीजिंग और मकाऊ में हैं. भारत में उनके स्टोर मुंबई और दिल्ली में है. केट विंसलेट, नाओमी वॉट्स, कोको रोशा, रोज़ी हंटिगटन-व्हाटली, ऐश्वर्या राय और प्रियंका चोपड़ा जैसी हस्तियां उनकी कंपनी की जूलरी पहनती रही हैं.नीरव मोदी ने अपने ही नाम से साल 2010 में ग्लोबल डायमंड ज्वेलरी हाउस की नींव रखी थी. कंपनी का मुख्यालय भारत के मुंबई शहर में है.
नीरव डायमंड का कारोबार करने वाले परिवार से आते हैं और बेल्जियम के एंटवर्प शहर में उनका पालन-पोषण हुआ है.
साभारः बीबीसी हिन्दी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *