दो साल से तनाव में थे भय्यूजी महाराज

इंदौर : गोली मारकर खुदकुशी करने वाले हाईप्रोफाइल आध्यात्मिक संत भय्यूजी महाराज के मामले में एक नया खुलासा हुआ है. बताया जा रहा है कि भय्यूजी महाराज काफी तनाव में थे और पुणे में उनका इलाज भी चल रहा था.

जानकारी के अनुसार, भय्यू महाराज पिछले दो साल से भारी तनाव के दौर से गुजर रहे थे. उन्हें कौन सी बात की चिंता थी, इस बात का खुलासा नहीं हो सका है.

हालांकि, प्रारंभिक जांच में पता चला है कि भय्यूजी महाराज तनाव से उबरने के लिए पुणे के देवयानी हॉस्पिटल के डॉक्टर श्रीरंग लिमये से इलाज करवा रहे थे. भय्यूजी महाराज अपनी पहली पत्नी के निधन के बाद दूसरी शादी की वजह से कथित तौर पर पारिवारिक कलह से जूझ रहे थे.

भय्यू महाराज की पहली पत्नी माधवी की नवंबर 2015 में दिल के दौरे के कारण मौत हो गई थी. इसके बाद उन्होंने पिछले साल अप्रैल में 49 साल की उम्र में मध्य प्रदेश के शिवपुरी की डॉ. आयुषी शर्मा के साथ दूसरी शादी की थी.

बताया जा रहा है कि इस शादी के बाद से ही बेटी कुहू और दूसरी पत्नी आयुषी के बीच खटपट की वजह से भय्यूजी महाराज काफी परेशानी में रहते थे.

भय्यू महाराज ने मंगलवार को इंदौर के सिल्वर स्प्रिंग स्थित बंगले में रिवॉल्वर से गोली मारकर खुदकुशी कर ली थी. पुलिस ने भय्यू महाराज के घर से छोटी-सी डायरी के पन्ने पर लिखा सुसाइड नोट बरामद किया है. इसमें उन्होंने लिखा है कि​ वह भारी तनाव से तंग आकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर रहे हैं.

(साभार : News 18)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *