निदा खान के खिलाफ फतवा जारी, हुक्‍का-पानी बंद, तीन तलाक का किया था विरोध

बरेली : तीन तलाक जैसे मामलों के खिलाफ आवाज बलंद करने वाली बरेली के आला हजरत खानदान की बहू निदा खान के खिलाफ फतवा जारी किया गया है. इसके तहत निदा खान का हुक्‍का पानी बंद कर दिया गया है.

यह फतवा दरगाह आला हजरत के दारूल इफ्ता ने जारी किया है. इसमें कहा गया है कि निदा अल्‍लाह या खुदा के बनाए कानून का विरोध कर रही हैं. इस कारण उनके खिलाफ फतवा जारी किया जा रहा है.

बरेली के शहर इमाम मुफ़्ती खुर्शीद आलम ने दरगाह आला हजरत पर हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि निदा का हुक्का पानी बंद कर दिया गया है.

सोमवार को जारी फतवे में कहा गया है कि निदा की मदद करने वाले, उनसे मिलने-जुलने वाले मुसलमानों को भी इस्लाम से खारिज किया जाएगा.

निदा अगर बीमार हो जाती हैं तो उनको दवा भी नहीं दी जाएगी. निदा की मौत पर जनाजे की नमाज पढ़ने पर भी रोक लगा दी गई है. इतना ही नहीं निदा के मरने पर उन्‍हें कब्रिस्तान में दफनाने पर भी रोक लगा दी गई है.

वहीं इस मामले में निदा खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पलटवार करते हुए कहा कि फतवा जारी करने वाले पाकिस्तान चले जाएं. उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान एक लोकतांत्रिक देश है. यहां दो कानून नहीं चलेंगे. उन्होंने कहा कि ये लोग सिर्फ राजनीति चमका रहे हैं.

उन्‍होंने सवाल उठाया कि इस्लाम से खारिज करने वाले ये होते कौन हैं. शरीयत पहले वो अपने घर पर जाकर लागू करें फिर आवाम पर लागू करें. क्योंकि उनको शरीयत के नाम पर आवाम को भड़काना आता है.

उनके खानदान में पहले से हराम काम हो रहा है. दारुल इफ्ता में मर्दों से पैसे लेकर उनके पक्ष में फैसला दे दिया जाता है. औरतों को इंसाफ नहीं मिलता.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *