महिला जेई को कुर्सी से बांध कर जिंदा जलाया, मकान मालिक हिरासत में

मुजफ्फरपुर : बिहार के मुजफ्फरपुर में अहियापुर के कोल्हुआ बजरंग बिहार कॉलोनी में रविवार रात एक निर्माणाधीन मकान में कुर्सी से बांध मनरेगा की जेई सरिता कुमारी को जिंदा जला दिया गया. वह मुरौल प्रखंड में कार्यरत थी. इसकी जानकारी लोगों को तब हुई, जब सोमवार सुबह मकान मालिक विजय कुमार गुप्ता ने मकान का ग्रिल खोला. उनके शोर मचाने के बाद मौके पर लोगों की भीड़ जुट गयी. विजय ने इसकी सूचना अहियापुर पुलिस को दी. इसके बाद प्रभारी थानाध्यक्ष अनिल यादव व सबइंस्पेक्टर विश्व मोहन प्रसाद ने मौके पर पहुंच मामले की जांच की. शव पूरी तरह से जलने के कारण शिनाख्त के लिए एफएसएल अहियापुर में महिला टीम को बुलाया गया.
टीम ने मौके से एक जोड़ी महिला का चप्पल, अधजली कुर्सी व हड्डी के अवशेष जांच के लिए ले गयी. देर शाम शव के बचे अवशेष को पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेजा गया. पुलिस ने इसकी सूचना जेई के परिजनों को मोबाइल पर दी है. सूचना पर बड़ा बेटा ध्रुव कुमार व जेई की मां कुसुम देवी मौके पर पहुंची. उन्हें पुलिस पूछताछ को थाने ले गयी.

पुलिस का कहना है कि शव की पहचान एफएसल रिपोर्ट आने के बाद ही होगी. वहीं जेई के पति के पहुंचने के बाद ही बयान दर्ज हो पायेगा. मकान मालिक विजय कुमार गुप्ता को भी हिरासत में रखा गया है.

बेटा व मकान मालिक बदल रहे बयान 
छानबीन के लिए मौके पर पहुंची पुलिस ने जब छोटे पुत्र को फोन लगाया, तो वह कभी मामा के यहां बरौनी में, तो कभी दूसरे शहर में होने की बात कह रहा था. वहीं मोहल्ले के लोगों का कहना था कि एक-दो दिन पूर्व उसे मोहल्ले में ही टहलते देखा गया था. वहीं, हिरासत में लिये गये मकान मालिक भी पुलिस के सामने अपना बयान बदल रहा था. इसके बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया. पुलिस बेटे के मोबाइल नंबर का टावर लोकेशन निकालने में जुटी है.
सीतामढ़ी के पैतृक गांव में रहते हैं पति
सरिता के पति विजय कुमार नायक अपने पैतृक गांव सीतामढ़ी के कन्हौली थाना क्षेत्र के फुलकाहां में रहते हैं. बड़ा बेटा ध्रुव दरभंगा से पॉलिटेक्निक कर रहा है, तो छोटा बेटा घर पर रहकर पढ़ाई करता था. पति के बयान दर्ज कराने व एफएसएल के रिपोर्ट आने के बाद ही मामले का खुलासा हो पायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *