सूर्य के अशुभ प्रभाव से बचाव के लिए करे ये उपाय

रायपुर ,ज्योतिष शास्त्र में सूर्य को प्रधान ग्रह का दर्जा प्राप्त है। सूर्य देव जगत पिता हैं और उनके बिना पृथ्वी पर जीवन का अस्तित्व संभव नहीं है। वैदिक ज्योतिष में सूर्य देव को नवग्रहों का राजा भी कहा जाता है। इन्हें सिंह राशि का स्वामित्व प्राप्त है। किसी भी व्यक्ति की कुंडली में सूर्य जीवन में सम्मान, सफलता, उन्नति, पिता के साथ संबंध और उच्च पद आदि की संभावनाएं प्रकट करता है।17 अगस्त 2018, शुक्रवार को सूर्य 07:06 बजे सिंह राशि में गोचर करेगा और 17 सितंबर 2018, सोमवार 7:02 बजे तक इसी राशि में स्थित रहेगा। चूंकि सूर्य को सिंह राशि का स्वामित्व प्राप्त है अतः सूर्य के प्रभाव से सिंह राशि के जातकों को लाभ मिलने की संभावना है। सूर्य के इस संचरण से सभी राशियां प्रभावित होंगी। आईये इस भविष्यफल के माध्यम से जानते हैं समस्त 12 राशियों पर होने वाले सूर्य के इस गोचर का प्रभाव…

मेष
सूर्य आपकी राशि से पाँचवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको कोई नई जॉब मिल सकती है। वहीं व्यवसाय करने वाले जातकों को भी लाभ मिलने के शुभ संकेत हैं और आय में वृद्धि की प्रबल संभावना है। गोचर के दौरान बच्चे थोड़े ज़िद्दी और क्रोधी स्वभाव के हो सकते हैं। यदि आपके प्रेम जीवन पर नज़र डालें तो यह औसत रहने के संकेत दे रहा है। ऐसे में आप अपने प्रियतम को पर्याप्त समय दें और उनके साथ आप बहसबाज़ी से बचें। कार्य क्षेत्र में आपको अपनी मंज़िल ख़ुद तय करनी होगी क्योंकि शायद आपको सीनियर्स का सहयोग कम मिल पाए। सरकार की ओर से लाभ मिलने के योग बन रहे हैं।

उपायः उगते हुए सूर्य को अपनी नग्न आँखों से देखें और जल का अर्घ्य दें।

वृषभ
सूर्य आपके चौथे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपकी माता जी की सेहत में सुधार होने की संभावना है। हालाँकि घर का वातावरण थोड़ा अशांत रह सकता है। परिजनों के बीच में किसी प्रकार का विवाद संभव है। कार्य क्षेत्र में आपको गोचर का लाभ मिलेगा। पदोन्नति के योग बन रहे हैं साथ ही जीवनसाथी के पद व प्रतिष्ठा में भी वृद्धि होने की प्रबल संभावना नज़र आ रही है।

उपायः रविवार को श्वेतार्क की पूजा करें।

मिथुन
सूर्य आपकी राशि से तीसरे भाव में प्रवेश करेगा। परिणाम स्वरूप आपकी कार्य क्षमता में वृद्धि होगी और ज़ोख़िम लेने से भी आप पीछे नहीं हटेंगे। सफलता पाने के लिए आप जमकर मेहनत करेंगे। इसके अलावा आपकी संकल्प शक्ति और साहस में भी वृद्धि होगी। छोटी दूरी की यात्रा पर जाना संभव है और यह यात्रा आपके लिए अनुकूल साबित हो सकती है। हालाँकि गोचर के दौरान भाई-बहनों को थोड़ा संघर्ष करना पड़ सकता है। जीवन साथी को भाग्य का साथ मिल सकता है लिहाज़ा उनके लिए गोचर शुभ परिणाम देने वाला रहेगा।

उपायः रविवार के दिन लाल कपड़े दान करें।

कर्क
सूर्य आपकी राशि से दूसरे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपके स्वभाव में क्रोध व अहंकार की वृद्धि हो सकती है। आप थोड़े कटु भाषी भी हो सकते हैं। जीवनसाथी की सेहत में कुछ कमी देखी जा सकती है। घर में किसी से आपका वाद-विवाद भी संभव है। आर्थिक दृष्टि से गोचर आपके लिए शुभ संकेत दे रहा है। इस दौरान आप धन की बचत करने में सफल रहेंगे। सरकार और उच्च अधिकारियों से लाभ मिलने के योग हैं।

उपायः भगवान शिव की आराधना करें और उन्हें खस का इत्र चढ़ाएँ।

सिंह
सूर्य आपकी राशि में गोचर करेगा और यह आपके प्रथम भाव में स्थित रहेगा। फलस्वरूप गोचर से आपको उच्च लाभ मिलने के योग बन रहे हैं। समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा। आप ख़ुद को और ऊर्जावान महसूस करेंगे। आपके व्यक्तित्व में निखार आएगा और स्वास्थ्य की दृष्टि से भी गोचर आपके लिए अच्छे संकेत दे रहा है। आपके स्वभाव में जोश व उत्साह दिखाई देगा लेकिन भाषा में आपके कड़वाहट नज़र आ सकती है। आपकी कड़वी बात किसी को ठेस पहुँचा सकती है इसलिए इस पर नियंत्रण रखें।

उपायः तांबे के बर्तन से सूर्य देव को जल का अर्घ्य दे।

कन्या
सूर्य आपकी राशि से बाहरवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान यदि आपकी विदेश जाने की इच्छा है तो वह पूर्ण हो सकती है। नौकरी में स्थानांतरण होने की संभावना है। किसी हिल स्टेशन पर आप घूमने की योजना बना सकते हैं। गोचर के दौरान आपके ख़र्चों में वृद्धि संभव है इसलिए पैसों की बचत पर ध्यान दें। आप अपने दुश्मनों पर हावी रहेंगे। यदि कोर्ट-कचहरी में आपका कोई मामला चल रहा है तो उसका फ़ैसला आपके हक़ में आ सकता है। अपने ग़ुस्से पर क़ाबू रखें, अन्यथा किसी से आपका विवाद हो सकता है।

उपायः ‘’ॐ आदित्याय विदमहे भास्कराय धीमहि तन्नो सूर्यः प्रचोदयात्!!’’ मंत्र का जाप करें।

तुला
सूर्य आपकी राशि से ग्यारहवें भाव में गोचर करेगा। इस अवधि में आपको आर्थिक दृष्टि से उच्च लाभ मिलने की प्रबल संभावना है। सरकारी उच्च पदों पर आसीन लोगों से आपके संबंध अच्छे बनेंगे और समय आने पर आपको उनसे लाभ प्राप्त होगा। समाज में आपका क़द और भी ऊँचा होगा। वहीं प्रेम जीवन में किसी प्रकार का विवाद हो सकता है इससे बचने के लिए पार्टनर की भावनाओं की पूरी क़द्र करें। बच्चों की सेहत कुछ कमज़ोर रह सकती है। अतः उनके स्वास्थ्य की देखभाल अवश्य करें। कार्यक्षेत्र में वरिष्ठ कर्मियों का सहयोग मिलेगा। जीवनसाथी को नई जॉब मिल सकती है।

उपायः आदित्य हृदय स्तोत्र का जाप करें।

वृश्चिक
सूर्य ग्रह आपकी राशि से दसवें भाव में गोचर करेगा। कार्यक्षेत्र में आपकी उन्नति होगी। प्रमोशन आदि के भी योग हैं। अपने कार्य में आपको आनंद आएगा और लोग आपके अच्छे कार्यों की प्रशंसा करेंगे। हो सकता है काम अधिक होने के चलते आप अपने निजी जीवन के लिए पर्याप्त समय न निकाल पाएँ इसलिए घरवालों की यह शिकायत रह सकती है कि आप उन्हें समय नहीं देते। माता जी की सेहत में कमी देखी जा सकती है। अतः उनका ख़्याल रखें।

उपायः इस मंत्र का जाप करें: ॐ घृणि: सूर्याय नमः!!

धनु
सूर्य आपकी राशि से नौंवें भाव में गोचर करेगा। परिणाम स्वरूप समाज में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा और प्रभावशाली लोगों से आपके अच्छे संबंध स्थापित होंगे। दान-धर्म के कार्यों में आपका मन लगेगा और लॉन्ग जर्नी भी आपके लिए अनुकूल रह सकती है। पिताजी की सेहत में कुछ कमी देखी जा सकती है। उनके साथ आपका मतभेद भी संभव है। भाई-बहनों को थोड़ा संघर्ष करना पड़ सकता है। गोचर के दौरान भाग्य आपका साथ देगा।

उपायः रविवार के दिन उत्तम कोटि का रूबी रत्न पहनें।

सूर्य के अशुभ प्रभाव से बचाव के लिए धारण करें: माणिक्य रत्न

मकर
सूर्य आपकी राशि से आठवें भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपके स्वास्थ्य में कुछ कमी देखने को मिल सकती है। अचानक आपके साथ कोई अप्रत्याशित घटना घट सकती है। हालाँकि ये घटनाएँ शुभ और अशुभ दोनों ही हो सकती हैं। जैसे- आपको प्रत्याशित धन लाभ अथवा धन हानि हो सकती है। शारीरिक रोग होने के भी संकेत हैं। ध्यान रखें आपका कोई पुराना राज़ खुल सकता है। हमेशा अनैतिक गतिविधियों से बचने का प्रयास करें अन्यथा मानहानि हो सकती है।

उपायः रविवार के दिन गेहूँ दान में दें।

कुंभ
सूर्य आपकी राशि से सातवें भाव में गोचर करेगा। इस स्थिति में आपका वैवाहिक जीवन थोड़ा प्रभावित रह सकता है। जीवनसाथी के साथ झगड़ा आदि होने की संभावना है। आपकी सेहत कुछ कमज़ोर रह सकती है। उगते हुए सूर्य को नग्न आँखों से देखना और जल का अर्घ्य देना आपके लिए शुभ रहेगा। प्रोफ़ेशनल क्षेत्र में आपकी उन्नति हो सकती है, इंक्रीमेंट अथवा प्रमोशन संभव है। व्यापार में साझेदारी से लाभ प्राप्त होने के योग हैं।

उपायः श्वेतार्क में जल चढ़ावे।

मीन
सूर्य आपकी राशि से छठवें भाव में गोचर करेगा। इस अवधि में आप अपने विरोधियों पर हावी रहेंगे। जीवनसाथी के व्यवहार में थोड़ी आक्रामकता नज़र आ सकती है। आपके ख़र्चों में वृद्धि संभव है। कोर्ट-कचहरी में आने वाला फ़ैसला आपके पक्ष में आ सकता है। वहीं प्रतियोगी परीक्षा में आपको सफलता मिल सकती है। कड़ी मेहनत से आपको अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे। किसी प्रकार की शारीरिक पीड़ा भी संभव है। बुखार, सिरदर्द जैसी भी शिक़ायत आपको रह सकती है।

उपायः रविवार के दिन बैल को गेहूँ व गुड़ खिलाएँ।
_★★_
भविष्यवक्ता
(पं.) डॉ. विश्वरँजन मिश्र, रायपुर
एम.ए.(ज्योतिष), बी.एड., पी.एच.डी.
मोबाईल :- 9806143000,
8103533330

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *