कही राफेल घोटाला, कही सेल फोन घोटाला:राहुल

रायपुर ,कांग्रेस के रास्ट्रीय अध्य्क्ष राहुल गाँधी ने सरकार की जम कर क्लास लेते हुए कहा की कांग्रेस पार्टी उन लोगों को विधानसभा में भेजेगी जिनके दिल में छत्तीसगढ़ के किसानों, मजदूरों, आदिवासियों और छोटे दुकानदारों के लिए जगह है। मैं आपको बता रहा हूँ, चुन-चुन के ऐसे लोगों को विधानसभा में भेजेंगे। और पॉलिसी बनेगी तो आपकी जो आवाज है, छत्तीसगढ़ के युवा, आपकी आवाज ,कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता की आवाज विधानसभा में गूँजेगी। और जो पैराशूट में बैठेगा, आप सुन लो, आपका पैराशूट काम नहीं करने वाला है। पैराशूट पहन के आओगे, पैराशूट फट जायेगा, 2,000 फुट से नीचे गिरोगे। तो आराम मत करिये, काम में लग जाइये।शक्ति प्रोजेक्ट की बधाई देना चाहता हूँ। जितने कार्यकर्ताओं को हमने जोड़ा, 2 लाख 5 हजार कांग्रेस के कार्यकर्ता शक्ति कार्यक्रम में हैं। अब आप बात समझो, शक्ति कार्यक्रम का मतलब क्या है? शक्ति कार्यक्रम का मतलब- कांग्रेस के कार्यकर्ता की शक्ति, कांग्रेस पार्टी की शक्ति। एक कैंडिडेट चुना जाता है, एमएलए चुना जाता है, मुख्यमंत्री चुना जाता है और फिर सारे के सारे निर्णय एमएलए और मुख्यमंत्री लेता है। अलग-अलग पोस्ट होती हैं, पूरे के पूरे निर्णय मुख्यमंत्री और एमएलए लेता है। मैं यहाँ मंच से कहना चाहता हूं, बहुत प्रेशर, अलग-अलग जो पोस्ट होती हैं, उनका निर्णय कांग्रेस पार्टी का कार्यकर्ता लेगा और जो काम करके दिखाएगा, जो पोलिंग बूथ जीता कर दिखाएगा, वो लाईन में सबसे आगे लगेगा और जो पोलिंग बूथ नहीं जीता पाएगा, वो लाईन में पीछे लगेगा। चाहे वो कितना भी बड़ा हो, चाहे वो कितना भी छोटा हो, अगर उसने छोटा हो, अगर वो पोलिंग बूथ के सामने, अगर नहीं जिताया, तो लाईन के पीछे। ये मैं कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता को, छत्तीसगढ़ की जनता को बता रहा हूं। आप जितोगे और छत्तीसगढ़ के युवाओं से और महिलाओं से भी मैं कहना चाहता हूं कि देखिए ये जो पार्टी है, ये बीजेपी की पार्टी नहीं है, बीजेपी पार्टी में उनका कंट्रोल केवल एक संगठन के हाथ में है। छत्तीसगढ़ को वो नागपुर से चलाते हैं, आर.एस.एस.। रिमोर्ट कंट्रोल मोहन भागवत जी के हाथ में है, जो मोहन भागवत जी चाहते हैं, छत्तीसगढ़ की बीजेपी करती है। यहाँ पर ये जो संगठन है, ये छत्तीसगढ़ की जनता का संगठन है। इसे कोई रिमोर्ट कंट्रोल नहीं चलाएगा। छत्तीसगढ़ के युवाओं, छत्तीसगढ़ की महिलाओं से कहना चाहता हूं आप इस संगठन को अपने हाथ में लो। दरवाजे खुले हैं, आप इस संगठन से जुड़ो, इस संगठन को अपना संगठन बनाओ, ये आपका संगठन है, मिलकर हम छत्तीसगढ़ को बदलने का काम करेंगे।
मैं आपको समझता हूं, युवा सपना देखता है और कहता है कि मैं भी एयरोनॉटिकल इंजीनियर बनना चाहता हूं, मैं भी डॉक्टर बनना चाहता हूं और मैं समझता हूं जब आप राफेल जैसा घोटाला देखते हो तो, आपके दिल में दर्द होता है। आपको लगता है कि अगर राफेल का कॉन्ट्रैक्ट HAL को मिलता तो शायद मैं भी HAL में इंजिनियर बनकर हिंदुस्तान की रक्षा कर पाता। आपको भी चुभता है मैं जानता हूं कि नरेन्द्र मोदी जी सिर्फ 540 करोड़ रुपए के हवाई जहाज को 1600 करोड़ रुपए में नहीं बेचा, नरेन्द्र मोदी जी ने अंबानी जी को लाखों-करोड़ रुपए देकर आपसे आपका सपना भी छीना है। मैं जानता हूं जब आप रमन सिंह जी के पुत्र के बारे में सोचते हो, आपके दिल में भी सवाल उठता है कि मैं शिक्षा में भी ऐसा था, मैं स्कूटर में कॉलेज में पढ़ता हूं, मेरा इस कॉलेज में पढ़ाने का पैसा था, जो इस कॉलेज में कम्प्यूटर जानने का पैसा था, वो रमन सिंह जी के बेटे ने इस कॉलेज से छीन कर पनामा में, किसी बैंक में डाला। मैं समझता हूं कि आपको ये बातें चुभती है। ये हम बदलना चाहते हैं। इसके लिए संगठन है कांग्रेस पार्टी का, इसमें आपको आना पड़ेगा।
ये जो मोबाईल है, ये जो इन्होंने BHEL से क्यों नहीं खरीदा? ये आप मुझे बात समझाईए, बात समझिए, उस तरफ राफेल घोटाला, इस तरफ सेल फोन घोटाला। छत्तीसगढ़ के युवाओं को मैं आपसे कहना चाहता हूं, आप खड़े हो जाओ, छत्तीसगढ़ को बदलना है, एक साथ खड़े होकर कांग्रेस पार्टी के साथ खड़े हो, आपके लिए विधानसभा में, लोकसभा में जगह है, आईए और इस प्रदेश को बदलने का काम शुरु कीजिए। आप सबको और जो हमारे आदिवासी भाई-बहन वहाँ बैठे हैं, खड़े हैं, आपने यहाँ कार्यक्रम किया, आप सबका मैं दिल से धन्यवाद कहना चाहता हूं और यहाँ स्टेज से कहना चाहता हूं, आपकी जो जमीन है, जो हमने ऐसा कानून बनाया था, आदिवासी बिल जो हम लाए थे, लैंड एक्विजिशन बिल जो हम लाए थे, जिससे आपको 4 गुना ज्यादा पैसा आपकी जमीन के लिए मिलता था, जिसको नरेन्द्र मोदी जी रद्द किया, रमन सिंह जी ने रद्द किया, हम उसको फिर से वापस लाएंगे और जो आपका हक है, आपको हम वापस दिलवाएंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *