दुमका-रांची इंटरसिटी दुर्घटना में 5 रेलकर्मी सस्पेंड

धनबाद :कतरास प्रोवइमेंट केबिन घर के पास सोमवार की देर रात बेपटरी हुई 18620 दुमका-रांची इंटरसिटी एक्सप्रेस के मामले में पांच रेलकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। सस्पेंड होने वाले कतरास के स्टेशन मास्टर एम सिंह और आरपी सिंह के अलावा ट्रेन के चालक एके चटर्जी, सह चालक एजी मिंज और गार्ड एनसी दुबे (तीनों रांची रेल मंडल के) की इस घटना में घोर लापरवाही उजागर हुई है।

पूर्व मध्य रेलवे के महाप्रबंधक डीके गायन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं। सोमवार की रात करीब साढ़े 12 बजे दुमका से रांची जाने के क्रम में ट्रेन की एस टू और एस थ्री बोगी बेपटरी हो गई थी। दुर्घटना के बाद रात साढ़े 12 बजे से सुबह 6.25 बजे तक धनबाद-रांची (वाया कतरास) रेलखंड बाधित रही। दुर्घटना के बाद यात्रियों में अफरातफरी मच गई थी। सूचना पाकर देर रात डीआरएम मनोज कृष्ण अखौरी, डीओएम संजय कुमार, सीनियर डीएसओ बीएन लाल सहित अन्य अधिकारी सड़क मार्ग से घटना स्थल पर पहुंचे थे। धनबाद दुर्घटना राहत ट्रेन घटना स्थल पर भेजी गई थी।

ये ट्रेनें रहीं प्रभावित : रात को कतरास होकर रांची से धनबाद आने वाली पाटलिपुत्रा एक्सप्रेस पौने तीन घंटे और रांची-दुमका इंटरसिटी साढ़े सात घंटे देरी से धनबाद आई। इसी तरह रांची की तरफ जाने वाली मौर्य एक्सप्रेस व वनांचल एक्सप्रेस को गोमो-चंद्रपुरा होकर घंटों विलंब से चलाया गया। सुबह में धनबाद से खुलने वाली धनबाद-रांची इंटरसिटी सवा घंटे और धनबाद-रांची पैसेंजर धनबाद से आधे घंटे देरी से रवाना हुई। धनबाद से रांची जा रही पाटलिपुत्रा को निचितपुर होकर चलाया गया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *