गर्ल्‍स हॉस्‍टल में घुसकर छात्राओं को लाठी-डंडे से पीटा

(File Photo)

सुपौल : बिहार के सुपौल में महिला सुरक्षा के नाम पर सरकार की पोल खोल कर रख देने वाली घटना सामने आई है . जहाँ मनचले स्‍कूल की छात्राओं से छेड़खानी करते थे।

वे छात्रावास (हॉस्‍टल) की दीवारों पर गंदी बातें लिख देते थे। छात्राओं ने इसका विरोध किया तो उन्‍हें गुस्‍सा आ गया। उन्‍होंने हॉस्‍टल में घुसकर छात्राओं को जमकर पीटा।

हमले में घायल 34 छात्राओं को इलाज के लिए अस्‍पताल में भर्ती कराना पड़ा, जिनमें 14 की हालत चिंताजनक है। घटना सुपौल के त्रिवेणीगंज स्थित कस्तूरबा आवासीय बालिका विद्यालय (स्‍कूल) की है।

घटना के चार आरोपितों को रविवार देर शाम तक पुलिस ने मुख्‍य आरोपित हरिया व मोहन सहित गिरफ्तार कर लिया था।

जानकारी के अनुसार मनचलों ने हॉस्‍टल की दवारों पर अश्‍लील बातें लिख दी थीं। शनिवार की शाम में स्‍कूल की कुछ छात्राएं मैदान में खेल रही थीं। इसी दौरान कुछ मनचले उनपर अभद्र टिप्पणी करने लगे।

दीवारों पर अश्‍लील बातों के कारण पहले से भड़कीं छात्राओं ने इसपर आपत्ति दर्ज की। उन्‍होंने मनचलों की शिकायत अध्यापकों से की।

अध्यापक और विद्यालय प्रधान जब मनचलों को समझाने गए तो वे उनसे भी उलझ गए। फिर, मनचले अपने अभिभावकों को बुलाकर ले ले आए और गुंडई पर उतरी भीड़ ने विद्यालय पर हमला बोल दिया।

उन्‍होंने वहां की सभी छात्राओं और शिक्षकों के साथ बेरहमी से मारपीट की। घटना में 34 छात्राएं गंभीर रूप से जख्मी हो गईं। घटना के बाद पुलिस ने घायल छात्राओं को अस्पताल पहुंचाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *