भाजपा रमन के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में लड़ेगी चुनाव

BJP मे ही ऐसी महानता है कि चाय बेचने वाले को प्रधानमंत्री और गरीब कार्यकर्ताओ को विश्व की सबसे बडी पार्टी का अध्यक्ष बनने का मौका मिलता है – अमित शाह

सरगुजा / भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आज दोपहर छत्तीसगढ के अम्बिकापुर पहुंचे। सरगुजा संभाग की 14 विधानसभाओ के मुख्यालय पहुंचे शाह के साथ मुख्यमंत्री डां रमन सिंह, भाजपा के प्रदेश प्रभारी डां अनिल जैन और प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक भी पहुंचे।

बता दे कि बूथ समिति एंव बूथ पालक सम्मेलन मे शामिल होने अम्बिकापुर पहुंचे अमित शाह ने पहली बार बूथ लेबल कार्यकर्ताओ से सीधे संवाद किया।

अम्बिकापुर के कला केन्द्र मैदान मे आयोजित बूथ समिति एंव बूथ पालक सम्मेलन को संबोधित करने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रदेश प्रभारी औऱ भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव डाँ अनिल जैन के साथ अम्बिकापुर पहुंचे। वही इस कार्यक्रम मे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक औऱ मुख्यमंत्री डां रमन सिंह भी पहुंचे।

कार्यक्रम की शुरुआत मे प्रदेश अध्यक्ष ने उपस्थित बूथ लेबल कार्यकर्ताओ को संबोधित किया। उसके बाद मुख्यमंत्री डां रमन सिंह और फिर अंत मे भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने लोगो को संबोधित किया।

पहली बार बूथ लेबल कार्यकर्ताओ को संबोधित करते हुए अमित शाह ने सीडी कांड की चर्चा करते हुए राहुल गांधी से सवाल किया कि हम तो रमन सिंह के नेतृत्व मे चुनाव लड रहें है आप ये बताईए कि आप कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व मे चुनाव लडेंगे क्या? इसके अलावा अमित शाह ने मुख्यमंत्री डां रमन सिंह की तारीफो का पुल बांधते हुए चौथी बार सरकार बनाने के लिए उपस्थित कार्यकर्ताओ को अपने अंदाज मे संबोधित किया।

बूथ समिति एंव बूथ पालको को संबोधित करने आए भाजपा अध्यक्ष के कार्यक्रम मे सरगुजा संभाग के पांच जिलो की 14 विधानसभा के 35 हजार कार्यकर्कओ को सम्मेलन मे बुलाया गया था। जिसमे हर बूथ के अध्यक्ष, सचिव के साथ पालको को निमंत्रण दिया गया था। इस आय़ोजन के लिए अम्बिकापुर के कलाकेन्द्र मैदान मे 75 सौ स्कावयर फिट का टेंट पंडाल लगाया गया था। सम्मेलन मे अपने कार्यकर्ताओ मे उर्जा फूंकने के लिए अमित शाह ने कहा कि 1982 मे अहमदाबाद के एक बूथ का मुझे भी अध्यक्ष बनाया गया था और तब मै काफी दूर खडा होकर ऐसे सम्मेलन को सुन रहा था। लेकिन भाजपा पार्टी मे ही ऐसी महानता है कि चाय बेंचने वाले को प्रधानमंत्री और गरीब कार्यकर्ताओ को विश्व की सबसे बडी पार्टी का अध्यक्ष बनने का मौका मिला। इतना ही नही शाह ने ये भी कहा कि दूसरी पार्टिया अपने अपने तरीके से चुनाव जीतती होंगी। लेकिन हम तो बूथ लेबल तक के कार्यकर्ताओ के दम पर चुनाव जीतते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *