कांग्रेस का घोषणा पत्र जन आकांक्षाओं का आईना

रायपुर,विधानसभा चुनाव 2018 के लिये जारी किया गया कांग्रेस का घोषणा पत्र छत्तीसगढ़ की जन आकांक्षाओं का आईना है। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में पिछले 15 वर्षो से जारी भाजपा की वायदाखिलाफी, जुमलेबाजी के विपरीत कांग्रेस का घोषणा पत्र राज्य के हर वर्ग के आशाओं और उम्मीदों को एक नर्ह राह दिखाने वाला है। कांग्रेस की सरकार गठन होने के 10 दिन के भीतर किसानों के कर्जा माफ करने की घोषणा के साथ धान का समर्थन मूल्य 2500 रू. प्रति क्विंटल और मक्के का समर्थन मूल्य 1700 रू. प्रति क्विंटल करने का वायदा कर कांग्रेस ने राज्य के बदहाल किसानों को संजीवनी दिया है। राज्य के हर परिवार को बिना भेदभाव के 35 किलो चावल सिर्फ 1 रू. की दर से देने का वायदा कर कांग्रेस ने इंसान और भूख के बीच के द्वंद को समाप्त करने का प्रयास किया है। इसके साथ ही देश के सर्वाधिक बिजली उत्पादक राज्य में मंहगी बिजली खरीदने को मजबूर आमआदमी के बिजली के दामों में भी कटौती करने का वायदा कर कांग्रेस ने प्रदेश के निवासियों को बड़ी राहत देने का प्रयास किया है। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में सार्वभौमिक हेल्थ कार्यक्रम की घोषणा कर स्वास्थ्य सेवाओं को प्राथमिकता की दिया है। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में महिलाओं की सुरक्षा स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा देने तेंदूपत्ता, श्रमिक, मनरेगा, मजदूरों, पुलिस कर्मचारी, नक्सल हमले के शिकार युवाओं के लिये रोजगार देने का सिर्फ वायदा किया है उसके लिये एक कार्ययोजना भी घोषित किया है, इसके साथ ही 10 लाख बेरोजगार युवाओं को मासिक अनुदान का भी प्रावधान रखा है। कांग्रेस का घोषणा पत्र राज्य के निवासियों की समस्याओं और उसके समाधान को रेखांकित करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *