वंचित समाज के तारणहार थे अम्बेडकर जी- जोगी

रायपुर स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री, महान अर्थशास्त्री, विद्वान विधिवेत्ता, कुशल राजनीतिज्ञ, महान समाज सुधारक और भारत रत्न डाॅ. भीमराव अम्बेडकर जी के महापरिनिर्वाण दिवस पर राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री व जनता कांगे्रस छत्तीसगढ़ (जे) के संस्थापक अध्यक्ष श्री अजीत जोगी ने अम्बेडकर जी को याद करते हुए उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा देश में हजारों साल से दबे कुचले, पिछड़े आदिवासी तथा वंचित समाज को समाज की मुख्यधारा में जोड़ते हुए स्व. अम्बेडकर वंचित समाज के तारणहार बने। विशेषकर अम्बेडकर जी ने मजदूर वर्ग और महिलाओं के प्रति सामाजिक भेदभाव के खिलाफ आवाज को बुलंद किया और भारत के संविधान में समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति को समान अधिकार दिलाई। श्री जोगी ने कहा राष्ट्र के प्रति अम्बेडकर जी के योगदान को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता, दुनिया का सबसे अच्छा संविधान भारत को देकर विश्व में भारत का मान बढ़ाया, भारतीय संविधान की ही देन है कि आज भारत विश्वपटल पर तेजी से महाशक्तिशाली देश के रूप में उभरा है, ऐसे वंचितों और शोषितों की आवाज बनकर लड़ाई लड़ने वाले, उनकी वकालत करने वाले भारतरत्न बाबा साहेब अम्बेडकर जी को उनके महापरिनिर्वाण दिवस पर नमन करता हूॅ और भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूॅ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *