अपने दिल को खुश करने के लिए काम करना चाहिए।शाहरुख़ खान

शाहरुख़ खान इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म “जीरो” के प्रचार में व्यस्त हैं। उन्हें इस इंडस्ट्री में तीन दशक होने वाले हैं। मगर उनका मानना है कि एक अभिनेता के तौर पर वे अभी भी अधूरे हैं। उनके मुताबिक, “मैंने कभी पूरा महसूस नहीं किया है। एक कलाकार होने के नाते, मैं बहुत अधूरा हूँ और मैं ये जानता हूँ। अगर में ऐसा नहीं होता तो मैं काम करना पसंद नहीं करता। अगर में पूरा होता तो क्यों मैं सुबह उठकर इतनी मेहनत करता और अभी भी कुछ करने की कोशिश करता।”
किंग खान ने ग्रुप इंटरव्यू के दौरान बताया कि वे काफी बेचैन हैं। उन्होंने कहा-“मैं हमेशा सोचता हूँ कि जिस कमर्शियल सिनेमा में मैं काम कर रहा हूँ, मैं कैसे एक अभिनेता होने के नाते, एक निर्माता होने के नाते, कुछ नया कर सकता हूँ। मैं बिलकुल भी पूरा नहीं हूँ, मैं काफी बेचैन इंसान हूँ। अगर आपको लगता है कि आप पूरे हो चुके हैं तो आप काफी उबाऊ हैं।”
उन्होंने आगे कहा-“तो मैं पूरा होने के बारे में सोचता ही नहीं हूँ। जैसे पुरानी कहावत है….सफर जरूरी है। अगर मुझे कोई कामयाबी मिलती है तो मैं ये नहीं सोचता कि यही अंतिम परिणाम है, मैं इसे माइलस्टोन के तौर पर देखता हूँ। पर मैं इसकी योजना नहीं बनाता। मैं नहीं सोचता कि मुझे इतना कमाना है या मेरे पास इतने अवार्ड्स होने चाहिए या मुझे इतनी हिट फिल्में देनी है, मुझे लगता है ये बहुत जैविक है। क्योंकि अगर आपने मुझ जितना फिल्मो में काम किया है तो बारीकियाँ ज्यादा मायने नहीं रखती।”
शाहरुख़ ने कहा कि जो फिल्मे वे अभी कर रहे हैं वे उन्हें बहुत पसंद करते हैं और वे परिणाम की चिंता नहीं करते। “25 साल तक काम करने के बाद, मैंने ये महसूस किया है कि आपको सिर्फ अपने दिल को खुश करने के लिए काम करना चाहिए।”
उनकी आगामी फिल्म “जीरो” भी अधूरेपन की कहानी है। उन्होंने कहा कि फिल्म ना किरदारों को दया की नज़र से देखती है और ना दर्शको से सहानुभूति मांगती है। उनके अनुसार, “जब विशेष क्षमता पर फिल्म बनती है तो उनकी कोशिश सहानुभूति हासिल करने की होती है। पूरी फिल्म में हमने कोशिश की है कि कोई भी किरदार दर्शको से सहानुभूति ना मांगे। हमे किसी की सहानुभूति नहीं चाहिए।”
शाहरुख़ ने कहा कि ये किरदार निभाना उनके लिए आसान नहीं था। उनके मुताबिक, “पिछले एक साल से हम इस बात को लेकर परेशान हो रहे हैं कि किरदार की लम्बाई इस फिल्म का आधार ना बन जाए। शुरू के 10-15 मिनट और यहाँ तक कि ट्रेलर में भी आप उस पर काबू पा लेते हैं। वो कोई मज़ाक या नौटंकी नहीं बनता। मैं और आनंद नहीं चाहते थे कि ऐसा हो।”
“जीरो” इसी महीने 21 तारिख को रिलीज़ होगी। इसमें अनुष्का शर्मा और कटरीना कैफ भी मुख्य भूमिका में नज़ार आएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *