साल 2022 तक कोई भी बगैर मकान के नही रहेगा : शिवराज

भोपाल :  मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि साल 2022 तक प्रदेश में जन्मे हर व्यक्ति के पास खुद का घर होगा। कोई भी गरीब बिना मकान के नहीं होगा। खुद के घर के सपने को पूरा करवाने का काम प्रदेश सरकार करेगी। इसी बजट सत्र में हर गरीब को आवासीय जमीन उपलब्ध करवाने के लिए कानून बनेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मुरैना जिले के रजौधा गाँव में रामकथा और कृषक हितग्राही सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में स्वच्छ भारत अभियान की कल्पना साकार हो रही है।कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री श्री रूस्तम सिंह, विधायक सर्वश्री सत्यपाल सिंह सिकरवार, मेहरवान सिंह रावत, दुर्गालाल विजय, कुक्कट पालन निगम के अध्यक्ष श्री मुंशीलाल, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती गीता हर्षाना, महापौर श्री अशोक अर्गल सहित ग्रामीण उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में जन्में हर गरीब को रहने के लिए आवासीय जमीन देकर उसे मालिक बनायेंगे। मकान बनाने के लिए सरकार एक लाख 20 हजार, शौचालय के लिए 12 हजार रूपये और यदि मालिक मकान बनाने के लिए स्वयं श्रम करेगा तो उसे मनरेगा की राशि देकर भी लाभान्वित किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर गरीब बीमार व्यक्ति का इलाज सरकार करवायेगी। इसके लिए सरकार प्रत्येक जिले में स्वास्थ्य शिविर लगा रही है। मुरैना में भी 6 फरवरी से शिविर होगा। कैंसर, हार्ट, किडनी, सहित गंभीर बीमारियों का उपचार अगर राज्य के बाहर होता है तो उसका खर्च सरकार उठायेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि धन के अभाव में कोई भी बच्चा बगैर पढ़े नहीं रहेगा। गरीब और सामान्य वर्ग के बच्चो की पढ़ाई का खर्च सरकार उठायेगी। आई.ए.एस., आईपीएस, आई.आई.टी., इंजीनियर, वैज्ञानिक, चिकित्सक जैसी अखिल भारतीय परीक्षाओं की तैयारियों के लिए कोचिंग का खर्च भी सरकार उठायेगी। उन्होंने कहा कि 12वीं पास कर कॉलेजों में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों को स्मार्ट फोन देने का कार्य भी सरकार कर रही है। सम्मेलन को सांसद श्री अनूप मिश्रा एवं विधायक श्री सूबेदार सिंह ने भी संबोधित किया।

मुख्यमंत्री ने सोन नदी पर स्टापडेम तथा पहाड़गढ में तकनीकी परीक्षण के उपरांत तालाब बनवाने तथा देव गाँव में नवीन प्राथमिक विद्यालय खोलने की घोषणा करते हुए कहा कि एक, डेढ़, दो किलोमीटर की सभी सड़कों का निर्माण करवाया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि कृषि कार्य के दौरान किसान की किसी दुर्घटना में मृत्यु होने पर सरकार 4 लाख रूपये की आर्थिक सहायता देगी। उन्होंने कहा कि नाबालिग बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने वाले दुराचारी को फाँसी की सजा दिये जाने के लिए केन्द्र सरकार से मांग की जायेगी।

नशा मुक्ति अभियान चलेगा
मुख्यमंत्री ने उपस्थित जन-समूह को शराब नहीं पीने का संकल्प दिलवाया। उन्होंने बताया कि प्रदेश में नशामुक्ति अभियान चलाया जा रहा है। शराब पर प्रतिबंध से नहीं लोगों को संकल्प दिलवाकर मध्यप्रदेश को नशे से मुक्त करेंगे। उन्होंने कहा कि कोई भी शराब की नई दुकान नहीं खुलने देंगे।

हर बच्चे को स्कूल भेजे
मुख्यमंत्री ने सभी को संकल्प दिलवाया कि हर बच्चा स्कूल जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेधावी बच्चा किसी भी जाति या समुदाय का हो, उसकी कॉलेज फीस राज्य सरकार वहन करेगी। उन्होंने संकल्प दिलवाया कि प्रत्येक व्यक्ति एक वर्ष में एक पौधा जरूर लगाये।

शिलान्यास
श्री चौहान ने ग्राम रजौधा में रामकथा एवं कृषक हितग्राही सम्मेलन में 7 करोड 3 लाख 42 हजार रूपये की लागत से निर्मित होने वाले 60 विकास कार्यो का शिलान्यास भी किया। मुख्यमंत्री ने विभिन्न कल्याणकारी योजना के 50 हितग्राही को लगभग सवा करोड़ रूपये की मदद उपलब्ध करवाई। सम्मेलन को केन्द्रीय पंचायत राज मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने अमृतसर से मोबाइल फोन से संबोधित किया।

Leave a Reply