यूपी चुनाव: पहले चरण के मतदान के लिए आज थम जाएगा प्रचार

लखनऊ: यूपी विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के लिए आज चुनाव प्रचार का शोर थम जाएगा, जिसे लेकर सभी पार्टियों के नेता कई जगहों पर चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे. यूपी विधानसभा के पहले चरण में 11 फरवरी को मतदान होगा. पहले चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 15 जिलों की 73 सीटों के लिए चुनाव होगा. इनमें शामली, मुजफ्फरनगर, बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, हापुड़, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा, हाथरस, आगरा, फिरोजबाद, एटा और कांसगज की सीटें शामिल हैं. चुनाव के इस दौर में प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री, राहुल गांधी बीएसपी प्रमुख मायावती ने वोटरों को लुभाने के लिए जमकर एक-दूसरे पर सियासी वार किए हैं.

पहली बार कांग्रेस समाजवादी पार्टी की साइकिल की सवारी कर रही है. एसपी और बीएसपी के बीच घूमने वाली यूपी की राजनीति में लंबे समय बाद बीजेपी सत्ता हासिल करने को बेताब हैं. वह बीएसपी और सपा कांग्रेस गठजोड़ को कड़ी टक्कर दे रही है तो तीसरी तरफ मायावती के लिए यह लड़ाई दोबारा सत्ता पाने की है.

पहले चरण के चुनाव प्रचार के आखिरी दिन देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज ताबड़तोड़ चुनावी रैलियां करेंगे. राजनाथ सिंह मथुरा, हाथरस और गौतम बुद्धनगर में चुनावी रैली को संबोधित करेंगे. राजनाथ सिंह की मथुरा में 11 बजे, हाथरस में करीब साढ़े 12 बजे और गौतम बुद्धनगर में डेढ़ बजे चुनावी रैली है. इससे पहले राजनाथ सिंह ने कल दादरी में चुनावी रैली में सपा-कांग्रेस गठबंधन पर निशाना साधा था. साथ ही प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी सरकार को आड़े हाथों लिया था.

मंत्री उमा भारती पहले चरण के चुनाव प्रचार के आखिरी दिन कई चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगी. उमा भारती आगरा, मैनपुरी और फर्रुख़ाबाद में चुनावी रैली है. उमा भारती आगरा में 11 बजे, मैनपुरी में 1 बजे और फर्रुख़ाबाद में 2 बजे चुनावी रैली को संबोधित करेंगी.

वहीं अखिलेश यादव भी आज तीन चुनावी रैलियां करेंगे. अखिलेश यादव छाता, टुंडला और फ़िरोज़ाबाद में चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे. इस दौरान अखिलेश यादव बीजेपी और बीएसपी पर जमकर निशाना साध सकते हैं. इससे पहले बुधवार को अखिलेश यादव ने बिजनौर की रैली में मायावती पर हमला बोला था. उन्होंने कहा था कि बुआ ने बीजेपी से कई बार समझौता किया है. साथ ही बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी वालों को समझ नहीं आ रहा है कि वे किधर जाएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *