150 किमी हवा में राख कर देगी दुश्मन की मिसाइल

भारत ने किया आकाशीय इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण

बालेश्वर (ओडिशा) : रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने शनिवार को पृथ्वी डिफेंस व्हीकल (पीडीवी) इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण किया. बैलिस्टिक मिसाइल रक्षा कार्यक्रम के तहत यह परीक्षण किया गया.यह बैलिस्टिक मिसाइल भारत पर परमाणु हमले के खतरे को कम करने की दिशा में कारगर साबित होगा.डीआरडीओ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि परीक्षण के दौरान सुबह 7.45 बजे देश के पूर्वी समुद्र तट पर 100 किलोमीटर की ऊंचाई पर अपनी तरफ आ रहे एक मिसाइल को इंटरसेप्टर प्रौद्योगिकी वाले इस मिसाइल ने नष्ट कर दिया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड में एक चुनाव रैली में कहा, ‘ कि सीमा पार जाकर हमारे फौजियों ने सर्जिकल स्ट्राइक की। दुश्मनों के कई कैंप तबाह कर दिये। उन्हें छठी का दूध याद दिला दिया। दुश्मनों को अभी तक नहीं पता चला कि हमारे जांबाज फौजी कैसे आए, कैसे किया, कैसे मारा कैसे चले गए, दुश्मन अभी भी होश में नहीं आया और यहां बालों ने शुरु कर दिया सबूत क्या है।

पीएम मोदी ने कहा कि आप मुझे बताइए भाइयों और बहनों क्या सबूत मांगा जाता है। मैं बदायूं की धरती से हिंदुस्तान को एक खुशखबरी देना चाहता हूं। रात में हमारे वैज्ञानिकों ने एक बहुत बड़ा पराक्रम किया है लेकिन यह लोग उसका भी सबूत मांगेंगे। आज दुनिया में मिसाइल से युद्ध लड़े जाते हैं। इन दिनों पाकिस्तान ने एक ऐसी मिसाइल बनाई है जो पाकिस्तान से अंडमान तक हमला कर सकती है। इजराइल के पास ऐसी मिसाइल है कि वह दुनिया तबाह कर सकता है। सब लोग मिसाइल बना रहे हैं।

मोदी ने आगे कहा कि हिन्‍दुस्तान के वैज्ञानिकों ने ऐसी मिसाइल तैयार की है कि आसमान में डेढ़ सौ किलोमीटर ऊपर दुश्मन की कोई मिसाइल आती है तो हमारी मिसाइल हवा में ही उसे राख कर देगी। वैज्ञानिकों ने शनिवार सुबह सफलतापूर्वक इसका परीक्षण किया है। वैज्ञानिकों ने वीरता का काम किया है लेकिन मुझे पता है यह लोग बयान देंगे सबूत क्या है। सबूत देखना है तो 150 किलोमीटर ऊपर से आ जाओ। तब नहीं जाएंगे कहेंगे नहीं चुनाव के बाद जाऊंगा।

पुलिस वालों से बोले मोदी, जनता को मत परेशान करो
पीएम मोदी पुलिस वालों से बोले किसी को परेशान मत करो। जो बैठा है उसे बैठा रहने दो और खड़ा है उसे खड़ा रहने दो। आपस में बात मत करो और फिर लोगों ने मोदी के नाम की जय जयकार शुरू कर दी।

Leave a Reply