मीडिया मॉनिटरिंग के गुर सीखेंगे पत्रकारिता विश्वविद्यालय के इन्टर्नस

रायपुर । मीडिया की भूमिका लोकतंत्र के इस महा-त्यौहार में बहुत अहम है, और उसकी निगरानी करना एक बड़ी चुनौती है। निगरानी प्रक्रिया को समझना और बारिकियों को जानना पत्रकारिता के विद्यार्थियों के लिए एक महत्वपूर्ण अनुभव होगा। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय के इंटर्नशिप के विद्यार्थियों को दिए जा रहे प्रशिक्षण-प्रबोधन कार्यक्रम के दौरान संबोधित कर रहे थे। विश्वविद्यालय के चयनित 30 विद्यार्थी लोकसभा निर्वाचन के दौरान मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में स्थापित मीडिया मॉनिटरिंग सेल की विभिन्न शाखाओं में मीडिया निगरानी संबंधी कार्यों का प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे।
प्रबोधन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए साहू ने कहा की निर्वाचन स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी हो, इसके लिए प्रभावशाली माध्यमों की निगरानी कर उसके गलत उपयोग को रोकने का प्रयास लगातार जारी है।
मीडिया की ताकत को समझते हुए कोई राजनीतिक दल या प्रत्याशी उसका गलत उपयोग न करें, इसके लिए मीडिया माॅनिटरिंग सेल का गठन किया गया है। मीडिया के सभी माध्यमों यथा प्रिंट, इलेक्ट्राॅनिक, वेब तथा सोशल मीडिया का व्यापक दायरा है, और किसी भी माध्यम का उपयोग निर्वाचन की शुचिता को प्रभावित न करें, इसे सुनिश्चित किया जाना चाहिए। उन्होंने इन्टर्नशिप प्रोग्राम के तहत आयोजित इस प्रशिक्षण को एक अवसर समझकर अधिकतम अनुभव प्राप्त करने का आह्वान किया।
अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी डॉ. एस. भारतीदासन ने विद्यार्थियों को पेड-न्यूज और सोशल मीडिया मानीटरिंग के संबंध में आवश्यक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आज के युवा टेक्नोसेवी हैं, और वे जानते हैं कि तकनीक का उपयोग और दुरूपयोग भी उतनी ही शक्ति से होता है। उन्होंने कहा कि मीडिया की समझ रखने वाले विद्यार्थी सोशल प्लेटफार्म में वायरल होने वाले फेक न्यूज पर नजर रखें। उन्होंने छात्रों के मीडिया निगरानी संबंधी विभिन्न सवालों के जवाब भी दिए। प्रशिक्षण के दौरान उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीकाँत वर्मा तथा सहायक निर्वाचन पदाधिकारी शारदा अग्रवाल ने मीडिया सर्टिफिकेशन तथा मॉनिटरिंग कमेटी के संबंध में विस्तार से जानकारी दी।
उल्लेखनीय है कि मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने पत्रकारिता विश्वविद्यालय के चयनित विद्यार्थियो को इन्टर्नशिप कार्यक्रम के तहत सीईओ कार्यालय के साथ मीडिया मॉनिटरिंग को देखने, जानने और अनुभव प्राप्त करने का अवसर देने का यह एक और सार्थक व अभिनव पहल किया है। इससे अतिरिक्त युवा मतदाताओं को निर्वाचन संचालन प्रक्रिया से जोड़ते हुए मतदान के लिए प्रेरित करने के लिए महाविद्यालयीन विद्यार्थियों का अध्ययन भ्रमण कार्यक्रम शुरू किया गया है। इसमें महाविद्यालयों के छात्र समूहों में नियत कार्यक्रम अनुसार सीईओ कार्यालय के अध्ययन भ्रमण के लिए आ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *