कांग्रेस के आरोप सिद्ध हुए मोदी सरकार में चुनाव आयोग अविश्वसनीय साबित हुई – कांग्रेस

 

रायपुर- चुनाव आयोग द्वारा पश्चिम बंगाल में प्रचार 19 घंटे पहले रोके जाने के बाद कांगेस पार्टी हमलावर हो गई है। छत्तीसगढ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने चुनाव आयोग पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह फैसला संविधान के खिलाफ है। चुनाव आयोग ने नरेंद्र मोदी और अमित शाह के आगे सरेंडर कर दिया है। चुनाव आयोग पहले अपनी क्षमता निर्भीकता और शुचिता के लिए जाना जाता रहा है, लेकिन आज प्रजातंत्र पर नरेन्द्र मोदी और अमित शाह द्वारा हमला बोला जा रहा है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने कहा कि चुनाव आयोग ने मोदी की रैली को ध्यान में रखते हुए ही प्रचार रात 10ः00 बजे के बाद रोक लगाई है बता दें कि आज पश्चिम बंगाल में नरेंद्र मोदी जी की दो रैलियां है यह पूरा विवाद अमित शाह के रोड शो के बाद शुरू हुआ है जो जान बूझकर किया गया है।
अमित शाह की राजनीतिक पैंतरेबाजी का इतिहास ही दंगा, उपद्रव, अराजकता से शुरू होती है, जिसके अनेक प्रमाण भी है। परंतु यह देश हिंसा नहीं अहिंसा का पक्षधर रहा है। महात्मा गांधी जी, डॉ. भीमराव अंबेडकर जी, पंडित जवाहर लाल नहेरू जी से लेकर अनेको वीर सपूतो ने अपने प्राणो की आहूती दी है, मगर भाजपा से गुजरात के दो ठगो ने देश की लोकतांत्रिक प्रक्रिया से लेकर संवैधानिक स्वततायी संस्थाओं पर अपनी ओछी मानसिकता के चलते गहरा चोट किया है।

Leave a Reply