प्रशासनिक कसावट लाने के भूपेश के निर्देश का कांग्रेस ने किया स्वागत

रायपुर- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कलेक्टर-एस.पी. कान्फ्रेंस के पहले सत्र में राज्य शासन के वरिष्ठ अधिकारी, राज्य के सभी संभागों के कमिश्नर, जिला कलेक्टर, जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और नगर निगमों के आयुक्त की उपस्थिति में मुख्य 16 बिंदुओं सहित करीब 2 दर्जन बिन्दुओ की समीक्षा की।

राज्य सरकार के विभिन्न विभागों के कामकाज के बीच समन्वय स्थापित करते हुये मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रत्येक योजना कार्यक्रम को पूरा करने के लिए समयबद्ध तथा परिणाम मूलक कार्य योजना एवं जनता से जुड़े सभी विभागों के कार्यों समन्वय पर जोर देने और काम में देरी ना हो इस दिशा में सभी कलेक्टरों को दिशा निर्देश देने का प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने स्वागत करते हुये कहा है कि सभी पांचों बिन्दुओं से प्रदेश के आम लोगों को सरकारी कामकाज में सहूलियत होगी और इससे कांग्रेस सरकार की संवेदनशीलता स्पष्ट है।

1 जनहितकारी योजनाओं के अमल पर कोताही बरतने पर कड़ी कार्रवाई होगी।
2 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दिशा निर्देश से प्रदेश में बेहतर कामकाज जनता के प्रति संवेदनशील होगा।
3 सरकार और प्रशासन सीधे पहुंचेगी जनता के द्वार का कार्यक्रम तैयार रखने के निर्देश से स्पष्ट है।
4 सरकारी और जनहितकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में कोई देरी ना हो।
5 भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन बनाने के लिए लोक सेवा गारंटी अधिनियम तथा संबंधित नियम कानूनों के तहत समय सीमा में सारे काम पूरा हो यह सुनिश्चित करे।

 

Leave a Reply