मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के ही खिलाफ झूठी अफवाह फैलाने वाले पर लगी धारा 124ए हटाने का निर्णय का कांग्रेस ने किया स्वागत

 

रायपुर– राज्य सरकार को बदनाम करने सोशल मीडिया पर बिजली बंद को लेकर सरकार के खिलाफ अफवाह फैलाने वाले पर हुई कार्यवाही का भाजपा द्वारा विरोध किये जाने से कांग्रेस ने कहा है कि इससे स्पष्ट हो गया है कि भाजपा ही अफवाह फैलाने की साजिशों के पीछे है।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा अफवाह फैलाने वाले पर पुलिस प्रशासन के द्वारा लगाई गई 124 ए को हटाने के निर्णय का कांग्रेस स्वागत करती है। धारा 124ए के द्वारा लोकतांत्रिक अधिकारों के हनन का कांग्रेस ने हमेशा विरोध है। राजद्रोह की धारा 124 ए लगाकर सरकार के खिलाफ उठ रही आवाज को दबाने के कांग्रेस विरोध में है। कांग्रेस ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के इस लोकतांत्रिक फैसले का स्वागत किया है। इस बात को भी नहीं भूलना चाहिये कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उसी व्यक्ति के ऊपर से 124ए की धारा हटाने का फैसला लिया है जिसने उन्हीं पर झूठे आरोप लगाता हुआ विडियो वायरल किया था। यह कांग्रेस सरकार के मुखिया भूपेश बघेल जी की विशाल हृदयता का परिचायक है। भारतीय जनता पार्टी ने तो एक साजिश रची, पूरे राज्य में कांग्रेस को बदनाम करने के लिये झूठ फैलाया। इसी साजिश के तहत फर्जी विडियो बनाकर वायरल किया गया है। जिसमें सरकार के मुखिया और सरकार पर लगाये गये आरोपों में कोई सत्यता नहीं है। राजनांदगांव में डबल सर्किटिंग का काम चल रहा था ताकि वहां पर भविष्य में बिजली गोल होने की शिकायत न आये। इसे इन्वर्टर कंपनी से सांठगांठ करने झूठी बात की गयी। इस मामले में सीएसईबी की शिकायत पर जो धारा 124ए राजद्रोह की लगी है, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसके बारे में अपनी अप्रसन्नता व्यक्त की और यह धारा हटा भी ली गयी है।

अफवाह फैलाकर कर राजनीति करना संघ और भाजपा का काम, जनता रहे सावधान

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने संघ और भाजपा पर अफवाह फैलाकर उन्माद फैलाकर गुमराह कर राजनीति करने का आरोप लगाते हुये कहा है कि लोकतंत्र में अपनी बात रखने का विरोध करने का और मांग करने का अधिकार है लेकिन जनता को गुमराह करने फैलाया गया अफवाह का कोई स्थान नहीं है अफवाह फैलाने वालों पर कार्यवाही तो होनी ही चाहिए।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने संघ भाजपा से पूछा है कि उक्त अफवाह फैलाने वालों के प्रति इतनी हमदर्दी क्यों? क्या संघ और भाजपा की मंशा सोशल मीडिया के जरिये अफवाह का जहर फैलाकर ही छत्तीसगढ़ की शांत धरा को अशान्त करना है? देश के कई राज्यों में सोशल मीडिया के जरिए पहले अफवाह ने कटुता को बढ़ाने का काम किया है, धार्मिक उन्माद भी फैले हैं मॉब लिंचिंग की घटनाएं भी हुई है, अफवाह के कारण ही जनहानि भी हुई है। जब छत्तीसगढ़ सरकार अफवाह फैलाने ऊपर कार्यवाही कर रही है तब भाजपा का विरोध लोकतंत्र के विपरीत है। संघ और भाजपा सोशल मीडिया के जरिए अफवाह फैलाने वालों को संरक्षण देना बंद करें और लोकतंत्र के दिए अधिकारों का लोकतंत्र के मूल्यों का सम्मान करें। विपक्ष सरकार की नीतियों का विरोध करें, लेकिन सिर्फ विरोध के लिये जनमानस में अफवाह का जहर बोने से बचें। कांग्रेस की सरकार संघ और भाजपा के इन मंसूबे को कामयाब नहीं होने देगी। अफवाह फैलाकर छत्तीसगढ़ में जहर बोने के संघ और भाजपा के प्रयासों से कांग्रेस सरकार कड़ाई से लेकिन लोकतांत्रिक तरीके से रोकेगी।

Leave a Reply