आज देश भर के डॉक्टर सुरक्षा की मांग को लेकर हड़ताल पर

आज देश भर के डॉक्टर सुरक्षा की मांग को लेकर हड़ताल पर

कोलकाता : आज देश भर के डॉक्टर सुरक्षा की मांग को लेकर हड़ताल पर जा रहे है. डोक्टारो की ये हड़ताल एनआरएस मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों के साथ की गई बद्सलुखी के विरोध में है. इस घटना के बाद से प्रदेश भर के डोक्टरों में गुस्सा है और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा आन्दोलन कारी डोक्टरों से बात करने में देरी और फिर शर्त रखन आग में घी का काम कर रही है.

इधर इंडियन मेडिकल असोसिएशन ने रविवार को कहा कि वह पश्चिम बंगाल में जूनियर डॉक्टरों के साथ हुई हिंसा के विरोध में सोमवार को हड़ताल पर रहेंगे। आईएमए ने कहा कि आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर सभी तरह का काम बंद रहेगा।आईएमए ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को भी पत्र लिखकर डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा को रोकने के लिए कानून लाने की मांग की थी।

आज देश भर के डॉक्टर सुरक्षा की मांग को लेकर हड़ताल पर जा रहे है इस पर युनाइटेड रेजिडेंट एंड डॉक्टर्स असोसिएशन इंडिया का कहना है कि हमारी स्ट्राइक तब तक जारी रहेगी जब तक कि इसका सॉल्यूशन नहीं निकलता है।

इस स्ट्राइक का दिल्ली में भी पूरा इफेक्ट हो सकता है, क्योंकि दिल्ली मेडिकल असोसिएशन (DMA) ने सभी प्राइवेट क्लिनिक और सेंटर को सोमवार को अपने अस्पताल, क्लिनिक और लैब बंद करने की अपील की है। इस हड़ताल के कारण आज देशभर में करीब 5 लाख डॉक्टर्स मरीजों का इलाज नहीं करेंगे।

यह भी पढ़े : एम्स समेत दिल्ली के 18 अस्पतालों में डोक्टरों की हड़ताल जारी

आईएमए ने डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा को रोकने के लिए सेंट्रल एक्ट की मांग को फिर दोहराया है। आईएमए ने कहा है कि सालों से यह मांग चली आ रही है लेकिन इसको लेकर हर बार केवल आश्वासन मिलता है। हमारी एक दिन यह स्ट्राइक उस मांग को लेकर है।

आईएमए ने कहा कि 17 जून को सुबह 6 बजे से लेकर अगले 24 घंटे तक स्ट्राइक का ऐलान किया है, जो 18 जून की सुबह 6 बजे तक रहेगी। इस बीच सभी प्रकार की ओपीडी बंद रहेगी। केवल इमरजेंसी और कैजुअल्टी के मरीजों का इलाज होगा।

Leave a Reply