मां ने भूख से तड़पते बच्चे को गला घोंटकर मार डाला

कन्नौज : मां ने भूख से तड़पते बच्चे को गला घोंटकर मार डाला. प्राप्त जानकारी के अनुसार माँ बच्चे के लिए तीन दिन से दूध का इंतजाम भी नहीं कर पा रही थी, इसलिए गला दबाकर मार डाला। बुखार से तपते बेटे को लेकर उसकी माँ डॉक्टर के पास पहुंची, लेकिन उधार चुकाए बिना वह दवा देने को तैयार नहीं हुए, इन सब कारणों से परेशान चल रही महिला ने ये भयानक कदम उठा लिए.

पुलिस के अनुसार, छिबरामऊ के बिरतिया मोहल्ले की रुखसार के तीन बच्चे हैं। मुंबई में नौकरी करने वाले पति शाहिद से उसका झगड़ा हो गया था। इस कारण 4-5 महीने से वह घर पर रुपये भी नहीं भेज रहा था। मुश्किल हालात में रुखसार किसी तरह अपने बच्चों का पेट भर रही थी। कुछ महीने पहले उसके 8 महीने के बेटे अहद को खून में संक्रमण हो गया था। जेवरात और घर का सामान बेच 90 हजार रुपये से अहद का आगरा में इलाज करवाया गया। 3-4 दिन से उसके पास एक रुपया भी नहीं था इसलिए बच्चे की मां ने भूख से तड़पते बच्चे को गला घोंटकर मार डाला.

गुरुवार शाम बुखार से तपते बेटे को लेकर रुखसार डॉक्टर के पास पहुंची, लेकिन उधार चुकाए बिना वह दवा देने को तैयार नहीं हुए। इस बीच बच्चा भूख से भी बिलबिला रहा था। सुबह करीब 6 बजे रुखसार ने बच्चे को पानी में चीनी घोलकर पिलाई। वह सो गया। 8:30 बजे तक बच्चा नहीं उठा तो करीब रहने वाले परिवार के लोगों को शक हुआ। बच्चों ने बताया कि मां ने भाई को गला दबाकर मार डाला। पुलिस पूछताछ में रुखसार ने बताया कि वह तीन दिन से बच्चे के लिए दूध का इंतजाम भी नहीं कर पा रही थी, इसलिए गला दबाकर मार डाला।

Leave a Reply