रांची/खूंटी : पुलिस ने शुक्रवार को भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर बोयदा पाहन गिरोह के हार्डकोर सदस्य पराऊ मुंडा उर्फ लंगड़ा उर्फ परमेश्वर मुंडा को गिरफ्तार किया. रांची के खादगढ़ा बस स्टैंड में छापेमारी कर उसे गिरफ्तार किया. वह अड़की के बांदूगढ़ा का रहनेवाला है.
 एसपी अश्विनी सिन्हा को सूचना मिली थी कि कई मामलों का वांछित माओवादी पराऊ मुंडा रांची से कहीं बाहर जाने के लिए खादगढ़ा बस स्टैंड आया हुआ है. इस सूचना के आधार पर एसपी ने एक टीम का गठन किया. इसमें एसडीपीओ रणवीर सिंह, पुलिस निरीक्षक एके अधिकारी, अनि श्याम खिल्ली, पुअनि राजन कुमार सहित सीआरपीएफ 94 बटालियन के जवान व जिला पुलिस बल शामिल थे. खादगढ़ा बस स्टैंड में छापेमारी के दौरान पुलिस को देख पराऊ मुंडा ने भागने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने उसे धर दबोचा.
तीन मामलों में थी तलाश : पराऊ मुंडा के खिलाफ अड़की थाना में तीन मामले दर्ज हैं. सभी मामले हत्या, सीएलए व आर्म्स एक्ट के हैं.
पराऊ मुंडा का अापराधिक इतिहास : एसपी के मुताबिक दो फरवरी 2014 को पराऊ मुंडा ने एरिया कमांडर बोयदा पाहन के दस्ते में शामिल होकर बांदूगढ़ा निवासी गुरुवा मुंडा की गोली मार कर हत्या कर दी थी. 18 अगस्त 2014 को  बोयदा पाहन के दस्ते के साथ बांदूगढ़ा के रामनाथ लोहरा, शिवचरण लोहरा, राजू लोहरा व सोहराय लोहरा का अपहरण कर हत्या की घटना को अंजाम दिया था. 11 जनवरी 2015 को अड़की के हेमरोम बाजार में पराऊ मुंडा ने दस्ते के साथ अड़की के मनबहाल स्वांसी की गोली मार कर हत्या कर दी थी.