नई दिल्‍ली: अरबपति मुकेश अंबानी के स्‍वामित्‍व वाली कंपनी रिलायंस जियो और विजय शेखर शर्मा द्वारा स्‍थापित पेटीएम ने अपने विज्ञापनों में सरकार की इजाजत के बगैर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो इस्‍तेमाल करने को लेकर माफी मांगी है.

दोनों ही कंपनियों को नोटिस भेजकर स्‍पष्‍टिकरण देने को कहा गया था कि आखिर उन दिशानिर्देशों का उल्‍लंघन क्‍यों किया गया जिसके अनुसार पीएम के नाम और तस्‍वीर का व्‍यवसायिक लाभ लेना प्रतिबंधित है.

उपभोक्‍ता मामलों के मंत्रालय द्वारा ए‍क लिखित चेतावनी भी जारी की गई जिसके अनुसार मामले में दंड भी दिया जा सकता है.

पिछले वर्ष सितंबर में देश की नई टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो ने विज्ञापनों के जरिये अपनी 4जी सेवाओं को मोदी सरकार के चर्चित डिजिटल इंडिया प्रोजेक्‍ट से जोड़ा था. अखबारों में पीएम मोदी की तस्‍वीर के साथ पूरे पन्‍ने में रिलायंस जियो के विज्ञापन छपे थे. उसके बाद नवंबर में, जब पीएम मोदी ने अचानक ही 500 और 1000 के नोटों को बंद करने का ऐलान किया, पेटीएम ने भी जियो की ही तरह विज्ञापन के द्वारा उसका स्‍वागत किया, जिसके बाद अचानक ही पेटीएम के डिजिटल वॉलेट्स समेत मोबीक्विक जैसे छोटे वॉलेट्स के इस्‍तेमाल में भी जबरदस्‍त इजाफा देखने को मिला था.