मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल से प्रदेश के पहले महिला रोजगार मेले का किया शुभारंभ

भोपाल: मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि महिलाओं को रोजगार और स्व-रोजगार से जोड़ने के लिये हर जिले में महिला रोजगार, स्व-रोजगार मेलों का आयोजन किया जायेगा।  वे आज भोपाल हाट में महिलाओं के लिये रोजगार, स्वरोजगार मेले ‘स्वावलंबी  महिला – सशक्त प्रदेश’ का शुभारंभ कर रहे थे

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर दिन माताओं, बहनों, बेटियों के सशक्तीकरण के लिये समर्पित होना चाहिये। । इसके लिये शिक्षा के साथ रोजगार जरूरी है। उन्होंने कहा कि बेटियों की पढ़ाई पर पूरा ध्यान दे। पढ़ाई का पूरा खर्चा सरकार उठायेगी। महिला सशक्तीकरण के लिये यह जरूरी है। बहनें अपने पैरों पर खड़ी हो। रोजगार के सारे मौके तलाश करेंगे। जो बहनें अपना काम शुरू करना चाहती हैं उन्हें सरकार की ओर से पूरा सहयोग किया जायेगा। रोजगार के लिये लोन वापसी की गारंटी सरकार देगी।

महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस ने कहा कि महिलाओं के लिये रोजगार के कई अवसर है। उन्होंने कहा कि अपने परिवार के लिये आत्म-विश्वास के साथ अपना काम शुरू करना पड़ेगा। महिलाओं को आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाना सर्वोच्च प्राथमिकता है। अगले साल अपना रोजगार स्थापित करने वाली महिलाओं का सम्मेलन किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने स्व-रोजगारी महिलाओं और कौशल उन्नयन कार्यक्रम में भाग लेने वाली रोजगार की इच्छुक महिलाओं को ऋण राशि एवं प्रमाण-पत्र वितरित किये। इस अवसर पर मध्यप्रदेश रोजगार निर्माण बोर्ड के अध्यक्ष श्री हेमंत देशमुख, प्रमुख सचिव महिला-बाल विकास श्री जे. एन. कंसोटिया, कलेक्टर भोपाल श्री निशांत वरवडे़ और बड़ी संख्या में महिलाएँ उपस्थित थी।