नई दिल्ली: मनोहर पर्रिकर ने 21 विधायकों के समर्थन के साथ गोवा में सरकार बनाने का दावा पेश किय़ा. मुख्यमंत्री पद की शपथ से पहले रक्षा मंत्रालय छोड़ेंगे.

गोवा में बीजेपी की विधायक दल की बैठक में सभी विधायकों ने एकमत से मनोहर पर्रिकर को वापस लाने का प्रस्ताव पास किया. पार्टी नेतृत्व को ये प्रस्ताव सौंपा जाएगा. विधायकों की मांग है कि मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व में सरकार बनाने की कोशिश होनी चाहिए.

पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं. यूपी और उत्तराखंड में बीजेपी को बहुमत मिला है. 40 सीटों वाली गोवा विधान सभा में कांग्रेस को 17 और बीजेपी को 13 सीटें मिली हैं.

इसके अलावा महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी को 3, गोवा फॉरवर्ड पार्टी को 3, एनसीपी को 1 और निर्दलीय को तीन सीटे में हैं. एमजीपी नेता सुदीन धावलीकर ने कहा कि गोवा के विकास और बेहतरी के लिये वे बीजेपी को समर्थन देने का निर्णय लिया है. वे गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री और केंद्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को मुख्यमंत्री बनाने का भी समर्थन किया. गोवा फॉरवर्ड के प्रमुख विजय सरदेसाई भी बीजेपी को समर्थन दे सकते हैं. बीजेपी अन्य से बातचीत जारी है.

इस बीच कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि बीजेपी विधायकों की खरीद फरोख्त की कोशिश में है. कांग्रेस ने कहा है कि एक बार उन्हें दूसरे विधायकों को समर्थन पत्र मिल जाए और विधायक दल का नेता चुन लिया जाए फिर वो राज्यपाल के पास जाएंगे.