‘भूतों’ से डरकर ब्राजील के राष्ट्रपति मिशेल टेमेर ने छोड़ा घर

रियो डी जिनेरियो : ब्राजील के राष्ट्रपति मिशेल टेमेर ने कहा है कि बुरी आत्माओं और भूतों ने उन्हें राजधानी ब्रासीलिया स्थित अपने आलीशान आधिकारिक आवास को छोड़ने के लिए मजबूर किया है. यह जानकारी ब्राजील में साप्ताहिक समाचार पत्र ने दी है.

टेमर ने ब्राजील की राजनीति पर नजर रखने वाले लोगों को इस सप्ताह यह कहकर हैरान कर दिया था कि उन्होंने एल्वोरेडा पैलेस छोड़ दिया है और वह अपनी पत्नी और सात साल के बेटे के साथ उपराष्ट्रपति आवास में रहने चले गये हैं, जो कि एल्वोरेडा पैलेस से छोटा है.

एल्वोरेडा का अर्थ है सूर्योदय. इसका डिजाइन ब्राजील के वास्तुकार ऑस्कर नाइमेयर ने किया था. यह आलीशान भवन कई लोगों का सपना होगा. इसमें एक बड़ा स्वीमिंग पूल, फुटबॉल का मैदान, प्रार्थनालय, चिकित्सा केंद्र और बड़ा सा बगीचा है.

लेकिन 76 वर्षीय टेमर और उनकी 33 वर्षीय पत्नी मार्केला को कांच के शानदार काम वाली यह इमारत भूतिया लगती है. वेजा ने कल टेमर के हवाले से कहा,

‘मुझे यहां कुछ अजीब लगता है. मैं पहली रात से ही यहां सो नहीं पाया हूं. यहां अच्छी ऊर्जा नहीं है.’ मार्केला को भी ऐसा ही महसूस हुआ. सिर्फ मिशेलजिन्हो (उनका बेटा) को यह पसंद आया है. वह एक स्थान से दूसरे स्थान तक भागता रहता था.’

उन्होंने कहा, ‘हम तो यह भी सोचने लग गये थे कि कहीं यहां भूत तो नहीं हैं?’ ग्लोबो अखबार की एक खबर के अनुसार, मार्केला टेमर ने बुरी आत्माओं को भगाने के लिए एक पादरी को भी यहां बुलाया था लेकिन इससे कोई फायदा नहीं हुआ. इसके बाद टेमर परिवार एक छोटे लेकिन शानदार जबुरु पैलेस में चले गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *