लखनऊ| उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में करारी हार के बाद भारतीय जनता पार्टी ने बसपा सुप्रीमो मायावती के ईवीएम पर सवाल उठाने को ‘हास्यास्पद’ करार देते हुए बुधवार को कहा कि हताशा में मायावती अनाप शनाप बयान दे रही हैं।

बीजेपी के उत्तर प्रदेश प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, ‘‘मायावती हार से हताश-निराश हैं और हताशा में अनाप-शनाप बयान दे रही हैं।’’ उन्होंने कहा कि मायावती को अपनी हार स्वीकार कर जनमत का आदर करना चाहिए। ईवीएम में गड़बड़ी की आशंका जता कर मायावती जनमत का उपहास उड़ा रही हैं।

मायावती के बीजेपी के खिलाफ देशभर में आंदोलन पर टिप्पणी करते हुए त्रिपाठी ने कहा कि मायावती को ‘स्टाइल ऑफ पालिटिक्स’ बदलनी चाहिए। आजादी के इतने वर्षों तक भी भारत की एक बड़ी जनसंख्या बैंकों तक नहीं पहुंच सकी थी। केन्द्र सरकार के जनधन अभियान ने गरीबों और वंचितों को बैंक से जोड़ दिया।

उन्होंने कहा कि मायावती जिस नोटबंदी से दुखी होकर लगातार मुखरता से विरोध करती रहीं हैं, उसका गरीब जनता ने दिल खोलकर समर्थन किया है।त्रिपाठी ने कहा कि मायावती ईवीएम से छेड़छाड़ पर प्रश्न खड़ा कर चुनाव कार्य में लगे लाखों कर्मियों सहित चुनाव आयोग पर भी बड़ा आरोप लगा रही हैं जो दुर्भाग्यपूर्ण है और चुनाव आयोग जैसी संवैधानिक संस्था का अपमान भी है।