ग्रासे: फ्रांस के दक्षिण शहर ग्रासे में एक हाई स्कूल में गोलीबारी में आठ व्यक्ति घायल हो गये. अधिकारियों ने बताया बताया कि इस संबंध में फ्रांस की पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार से लैस 17 वर्षीय एक युवक को गिरफ्तार किया है. उसने दक्षिणी फ्रांस में स्थित एक स्कूल पर खुले आम गोलीबारी करनी शुरू कर दी थी. युवक के पास से एक राइफल, दो पिस्तौल और दो ग्रेनेड बरामद हुए हैं. उसने टॉकविल हाई स्कूल में गोलीबारी शुरू की थी.

गृह मंत्रालय ने प्रवक्ता ने बताया कि प्रिंसिपल सहित आठ व्यक्ति घायल हुए हैं. कुछ हमले के बाद मची भागदौड़ में घायल हुए.

संदिग्ध का नाम अभी भी सार्वजनिक नहीं किया गया है. संदिग्ध ने सोशल मीडिया पर अमेरिका के स्कूल पर हुई गोलीबारी सहित साल 1999 में कोलंबिन नरसंहार की तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किया था.

क्षेत्रीय सरकार के प्रमुख, क्रिस्टी एस्ट्रोसी ने बताया कि यह हमला आतंकी हमला नहीं है. हमलावर में मनोवैज्ञानिक समस्याएं दिखी हैं.

स्थानीय अस्पताल के निदेश फ्रेडरिक लिमोजी ने बताया कि हेड शिक्षक को स्थानीय अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. उनके बाजू पर गोली के जख्म हैं. तीन छात्र गोली के छर्रे से घायल हुए थे, उनका इलाज भी हो रहा है.

जांचकर्ताओं ने शुरू में बताया कि दूसरे संदिग्ध की तलाश कर रहे हैं लेकिन एक पुलिस सूत्र ने कहा कि हमलावर ने अकेले ही इस घटना को अंजाम दिया.

पेरिस में नवंबर 2015 में आईएस के हमले समेत कई हमलों के बाद फ्रांस में अब भी आपातकाल लागू है. पेरिस हमले में 130 लोग मारे गये थे.

आतंकी हमलों से घबराये हुये देश में प्रशासन ने सभी स्कूलों के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी है. यह गोलीबारी ऐसे समय में हुई है जब दो राउंड के राष्ट्रपति चुनाव में 6 सप्ताह से भी कम समय रह गया है.