आगरा. आगरा कैंट स्टेशन के पास रात में आतंकी धमकी मिलने के कुछ घंटे बाद ही शनिवार सुबह दो धमाके होने से ताज नागरी दहल गई. एक धमाका स्टेशन के प्लैटफॉर्म न 5 के आउटर में ट्रैक के पास से हुआ, वहीँ दूसरा धमाका ट्रैक के सहारे बस्ती में हुआ. धमाके इतने तेज थे की दूर दूर तक आवाज सुनाई दी. सुचना पर रेलवे, सिविल पुलिस और आर्मी इंटेलीजेंस पहुच गयी. कुछ देर के लिए ट्रेनों का आवागमन भी रोक दिया गया. कोई जानहानि नही हुई है. एजेंसियां जांच में जुट गयी है.

बिहार के बक्सर में रेलवे ट्रैक पर हुए बम धमाके के मामले में जीआरपी दानापुर के हत्थे एक संदिग्ध चढ़ा है.रोहतास में छापेमारी के दौरान पकड़ा गया युवक मनोज कुमार अगरेड़ रोहतास का रहने वालाा है. पुलिस संदिग्ध से पूछताछ कर रही है.

लखनऊ में आईएस से प्ररित आतंकी सैफुल्लाह मारे जाने के बाद से लगातार आतंकी धमकियां मिल रही है. एक दिन पहले ताजमहल को उडाने की इंटरनेट पर धमकी दी गयी थी. इस पर यूपी में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया था. अगले ही दिन शुक्रवार की रात आगरा कैंट स्टेशन के पास रेल ट्रैक पर आतंकी धमकी भरा पत्र मिलने से सुरक्षा एजेंसियो में खलबली मच गयी थी. अब कुछ ही घंटे बाद सुबह कैंट स्टेशन के पास दो धमाके ने सुरक्षा एजेंसियो के होश उड़ा कर रख दिये.

सुबह 8.00 बजे के आसपास कैंट स्टेशन के आउटर में एक के बाद एक दो धमाके की आवाज सुनाई दी. दूर दूर तक सुनाई दी आवाज से कैंट स्टेशन पर यात्रियों में भी भगदड़ मच गयी. सुचना पर आरपीएफ कमेंडेन्ट, एसपी जीआरपी, एसएसपी आगरा बम निरोधक दस्ते और फ़ोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए. पता चला है कि धमाका स्टेशन के प्लैटफार्म न. 5 के पास आउटर के सहारे पटरी के पास से हुआ है.

वहीं, दूसरा धमाका पास में ही बनी मुस्लिम बस्ती सराय ख्वाजा में कूड़े के ढेर पर हुआ. पास में ही ट्रैक्टर खड़ा था. धमाके इतने तेज थे की ट्रैक्टर का टायर तक फैट गया. धमाकों से कोई जानहानि नही हुई है. ट्रैक भी सुरक्षित है. पहली तस्वीर से पता चला है की धमाके गंधक और पोटास से हए है. अभी कारण स्पष्ठ नही हो सका है. इसकी गहनता से जांच की जा रही है. कुछ देर के लिए ट्रेनों का संचालन रोक गया था. ट्रैक परखने के बाद शुरू कर दिया गया. वहीँ कैंट स्टेशन के दोनों और कई किलोमीटर तक सघनता से चेकिंग कराइ जा रही है. फिलहाल, ब्लास्ट से किसी के हताहत होने की खबर नहीं आ रही है.