जमशेदपुर :  मुंबई-टाटानगर अंत्योदय एक्सप्रेस दर्जनों यात्रियों को लेकर रविवार को पहली बार टाटानगर पहुंची. ट्रेन के लगभग सभी काेच खाली थे. ट्रेन का स्वागत के लिए टाटानगर के स्टेशन प्रबंधक ओपी शर्मा, आरपीएफ प्रभारी एमके सिंह सहित कई पदाधिकारी प्लेटफॉर्म नंबर चार पर पहले से मौजूद थे. रेल अधिकारियों ने ट्रेन से टाटानगर आने वाले यात्रियों का स्वागत किया. यात्रियों के उतरने के बाद आरपीएफ ने सभी कोच की जांच की.
इसके बाद ट्रेन को टाटानगर के लाइन नंबर सात में कड़ी सुरक्षा के बीच खड़ी की गयी. टाटानगर स्टेशन प्रबंधक ओपी शर्मा ने बताया कि शनिवार को मुंबई स्टेशन पर रेलमंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने हरी झंडी दिखाकर ट्रेन को रवाना किया था. ट्रेन चलाने की घोषणा रेल बजट में हुई थी. श्री शर्मा ने बताया कि अंत्योदय सुपरफास्ट एक्सप्रेस एलटीटी (मुंबई) से टाटानगर के लिए प्रत्येक मंगलवार और शनिवार को तथा टाटानगर से लोकमान्य तिलक टर्मिनल (मुंबई) के लिए प्रत्येक रविवार और गुरुवार को खुलेगी . ट्रेन कुल 11 स्टेशनों पर रुकेगी.ट्रेन टाटा से चलकर चक्रधरपुर, राउरकेला, झारसुगुड़ा, रायगढ़, बिलासपुर, रायपुर, नागपुर, दुर्ग, भुसावल होते हुए लोकमान्य तिलक टर्मिनल पहुंचेगी. ट्रेन के कोच में वाटर प्यूरीफायर सिस्टम, लैपटॉप, मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट की सुविधा दी गयी है. अग्निशमन जैसी अन्य सुविधा भी है.
गुरुवार को रवाना होगी ट्रेन
  अंत्योदय एक्सप्रेस गुरुवार को टाटानगर से मुंबई के लिए रवाना होगी. अंत्योदय एक्सप्रेस ट्रेन स्टेशन के लाइन नंबर सात पर खड़ी की गयी है. ट्रेन की सुरक्षा के लिए चार आरपीएफ जवानों को तैनात किया गया है, ताकि असामाजिक तत्व उसे नुकसान न पहुंचा सके. ट्रेन की सुरक्षा का जिम्मा आरपीएफ को दिया गया है.सेल्फी के लिए लगी लोगों की भीड़: ट्रेन अाने के पूर्व प्लेटफॉर्म नंबर चार पर कई लोग इंतजार कर रहे थे. जैसे ही ट्रेन प्लेटफार्म नंबर चार पर खड़ी हुई. ट्रेन के सामने खड़े होकर लोग सेल्फी लेने लगे. कई लोगों ने पूरी ट्रेन का निरीक्षण किया. लोग ट्रेन के कोच में लगे सामानों को देख रहे थे.