BCCI में अपने कामकाज को लेकर मैं संतुष्ट: विनोद राय

मुंबई
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (सीओए) के प्रमुख अपने कार्यकाल को लेकर संतुष्ट नजर आए। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को संकेत दिए कि करीब 2 साल (33 महीने) से बीसीसीआई में चली आ रही उसकी निगरानी खत्म हो जाएगी।

इस तरह एक बार फिर इस प्रभावशाली बोर्ड का कामकाज चुने हुए प्रतिनिधियों के संभालने का रास्ता साफ हो गया है। टीम इंडिया के पूर्व कैप्टन आज (बुधवार) बीसीसीसीआई के नए अध्यक्ष के तौर पर पदभार लिया। अब अगले 10 महीने तक सौरभ गांगुली के नेतृत्व वाली नई टीम ही बीसीसीआई के कामकाज से जुडे़ फैसले लेगी।

बीसीसीआई की सालाना आम सभा बैठक (एजीएम) में हिस्सा लेने मुंबई में बोर्ड के मुख्यालय पहुंचे राय से जब उनके कार्यकाल के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मैं बहुत संतुष्ट हूं।’ राय ने यह बात सुप्रीम कोर्ट से CoA के अध्यक्ष के रूप में मिली अपनी जिम्मेदारी को लेकर कही। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट उन्हें जो जिम्मेदारी मिली थी उन्होंने उसे ठीक ढंग से निभाया है और अब अपने नए संविधान के मुताबिक बीसीसीआई अपना कामकाज करने के लिए तैयार है।

भारत के सबसे सफल कप्तानों में से एक गांगुली बीसीसीआई के 39वें अध्यक्ष हैं। पद के लिए गांगुली का नामांकन सर्वसम्मति से हुआ था, जबकि गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय सचिव होंगे। उत्तराखंड के महीम वर्मा बोर्ड के नए उपाध्यक्ष होंगे। बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष और केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर के छोटे भाई अरुण धूमल कोषाध्यक्ष के रूप में चुना गया है और वहीं केरल के जयेश जॉर्ज संयुक्त सचिव का पद संभाला है।

Source: Sports

Leave a Reply