बिजली विभाग में पीएफ घोटाला जांच का प्रस्ताव केंद्र को भेजा

उत्तर प्रदेश में संशोधित नागरिकता कानून लागू करने की प्रक्रिया शुरू

लखनऊ : उत्तरप्रदेश बिजली विभाग में कर्मचारियों की भविष्य निधि की राशी में घोटाले को लेकर आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है, इस बीच योगी आदित्यनाथ सरकार ने बिजली विभाग में हुए इस घोटाले की सीबीआई जाँच का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेज दिया है.

इस मामले को लेकर के बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा ने ट्वीट कर कहा था की कर्मचारियों की भविष्य निधि का पैसे निजी कंपनी में निवेश का मामला गंभीर है। इसमें जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। UPPCL के सभी कार्मिक मेरे परिवार के सदस्य हैं, किसी का कोई अहित न हो सरकार यह सुनिश्चित करेगी। वही शर्मा पर तंज कस्ते हुए समाजवादी पार्टी ने भी ट्वीट कर पूछा था ये रिश्ता क्या कहलाता है.

Leave a Reply