मोदीनई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में सोमवार शाम राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दलों की बैठक हुई. बैठक में राजग के 33 दलों ने हिस्सा लिया. राजग नेताओं की इस बैठक में एक प्रस्ताव पास किया गया. इस प्रस्ताव में कहा गया कि राजग के सभी दल 2019 में पीएम मोदी के नेतृत्व में मिलकर चुनाव लड़ेंगे. भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक मंगलवार को होगी.

समझा जाता है कि इस बैठक में राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति पद के लिए जुलाई में होने वाले चुनाव समेत भविष्य की रणनीति तैयार करने पर चर्चा हुई. बैठक में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मौजूदगी आकर्षण का केंद्र रही. उद्धव भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और पीएम मोदी से मिले. राजग की बैठक के बाद पीएम मोदी ने अपने सहयोगियों को रात्रिभोज दिया. बैठक में जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती, आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू बैठक में मौजूद रहे.

बैठक में हिस्सा लेने पहुंचे उद्धव ठाकरे ने इस बारे में पूछे जाने पर कुछ भी कहने से इंकार किया. हालांकि उन्होंने पाकिस्तान में कथित जासूसी के आरोप में गिरफ्तार भारतीय कुलभूषण जाधव को मौत की सजा दिये जाने पर कहा कि अगर जरूरत पड़े तो सरकार को कठोर कदम उठाना चाहिए. पिछले कुछ वक्त से भाजपा और शिवसेना के बीच रिश्तों में तल्खी देखी जा रही है. शिवसेना के सांसद रवींद्र गायकवाड पर एअर इंडिया की पाबंदी के बाद शिवसेना ने बैठक के बहिष्कार की धमकी दी थी. लेकिन प्रतिबंध हटने के बाद उद्धव ठाकरे भी बैठक में शामिल होने पहुंचे.