अखिलेशनयी दिल्ली : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की बिसात पर देश की राजनीति में अभी से ही वर्ष 2019 के आम चुनाव की तैयारी शुरू कर दी गयी है. सोमवार की आधी रात को भाजपा के नेतृत्व में एनडीए के 33 दलों ने मंथन कर करीब दो साल बाद होने वाले लोकसभा चुनाव ब्लू प्रिंट तैयार किया है, तो दूसरी ओर दिल्ली में समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की है. इन दोनों नेताओं की मुलाकात के बाद कयास यह लगाया जा रहा है कि अखिलेश ने ममता बनर्जी के साथ मिलकर आने वाले 2019 के चुनाव के लिए महागठबंधन को लेकर बातचीत की है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव 2019 के आम चुनाव को लेकर नये महागठबंधन की तैयारी में जुट गये हैं. सोमवार को उन्होंने दिल्ली जाकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की. ममता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने दिल्ली आयी थीं. इसी बीच अखिलेश उनसे मिलने चले गये.
इससे पहले 2019 के चुनाव की तैयारियों को लेकर अखिलेश यादव बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी मिल चुके हैं. कहा जा रहा है कि उत्तर प्रदेश चुनावों में मिली हार के बाद अब वह भाजपा के खिलाफ नया मोर्चा बना सकते हैं. सूत्रों का कहना है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी लगातार उनके संपर्क में हैं और वह उन्हीं के बुलावे पर दिल्ली गये थे.
ममता ने जब नोटबंदी के खिलाफ लखनऊ में अपना विरोध प्रदर्शन किया था, तो उनकी मदद सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ही की थी. अखिलेश ही उस वक्त उन्हें रिसीव करने के लिए एयरपोर्ट पर गये थे. इससे पहले भी जब समाजवादी परिवार में विवाद चल रहा था, तो ममता ने उन्हें फोन करके अपना समर्थन जाहिर किया था.