ईसरो आज फिर से बनाएगा इतिहास

ईसरो आज फिर से बनाएगा इतिहास

नई दिल्ली : ईसरो आज फिर से बनाएगा इतिहास. इसरो आज 14 सैटेलाइट को अंतरिक्ष में भेजेगा. श्रीहरीकोटा लांच पैड से आज सुबह अंतरिक्ष में भेजा जाएगा. इसके लिए ईसरो ने सभी तैयारिया पूरी कर ली है. ईसरो इस बार इन सैटलाइट को पीएसएलवी एक्सएल वेरिएंट के जरिए भेजेगा। आज लांच होने वाले उपग्रहों में भारत का 1,625 किलोग्राम का कार्टोसैट 3 उपग्रह और 13 नैनो अमेरिकी उपग्रह शामिल है.

बता दें कि कार्टोसैट 3 तीसरी पीढ़ी का एक उन्नत किस्म का उपग्रह है जिसमें हाई रिजॉल्यूशन इमेजिंग क्षमचा है। जो अंतरिक्ष से भारत की सीमाओं की निगरानी करने में मदद करेगा। ईसरो के इस लांच से भारत की अंतरिक्ष क्षमता में भरी इजाफा होगा. वही ईसरो का पीएसएलवी एक्सएल 320 टन भारी और 44 मीटर लंबा रॉकेट है। ये ठोस और तरल ईंधन के जरिए संचालित किया जाता है। उड़ान के शुरुआती चरण में इसमें अतिरिक्त जोर देने के लिए इसमें छह स्ट्रैप ऑन बूस्टर मोटर्स हैं।