भारत बचाओ आंदोलन में छत्तीसगढ़ के कांग्रेसजन होंगे शामिल

अन्नदाता किसानों का मुद्दा होगा प्रमुख मुद्दा

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने जानकारी दी कि दिल्ली में कांग्रेस आर्थिक मुद्दों पर देशव्यापी आर्थिक मंदी, बढ़ती बेरोजगारी, बेतहाशा बढ़ती महंगाई और किसानों के साथ किए जा रहे अन्याय के खिलाफ राष्ट्रीय स्तर पर बड़ा आंदोलन 14 दिसंबर को दिल्ली में करने जा रही है। 14 दिसंबर के दिल्ली के एआईसीसी के राष्ट्रीय स्तर के भारत बचाओ अभियान के कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के कांग्रेस कार्यकर्ता भी शामिल होंगे। मंदी के कारण छोटे व्यापार-उद्योग की बुरी हालत, अर्थव्यवस्था के बदहाली के खिलाफ कांग्रेस का यह आंदोलन है। केन्द्र सरकार के किसान विरोधी रवैये और आर्थिक मोर्चे पर विफलता के खिलाफ पूरे देश में और छत्तीसगढ़ में भी गहरी नाराजगी है।
एआईसीसी के राष्ट्रीय स्तर के भारत बचाओं अभियान के कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के 5000 से अधिक कांग्रेस कार्यकर्ता भाग लेंगे। पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुये प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन ने कहा कि 14 दिसंबर के दिल्ली के एआईसीसी के राष्ट्रीय स्तर के भारत बचाओं अभियान के कार्यक्रम में भाग लेने के प्रति छत्तीसगढ़ में खूब उत्साह है, दिल्ली के कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के 2500 कांग्रेस कार्यकर्ता विशेष ट्रेन द्वारा 12 दिसंबर को दुर्ग से रवाना होकर रायपुर भाठापारा, उसलापुर, करगी रोडद्व अनुपपुर, कटनी होकर 13 दिसंबर दोपहर 3 बजे सफदरजंग स्टेशन पहुंचेगी। शेष किसान एवं कांग्रेसजन अन्य साधनों से दिल्ली जायेंगे। प्रदेश कांग्रेस का कंट्रोल रूम प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं कंट्रोल रूम प्रभारी महेन्द्र छाबड़ा की अगुवाई में लगातार कांग्रेसजनों से सतत संपर्क में है और उनसे ज्यादा से ज्यादा संख्या में दिल्ली पहुंचने की अपील कर रहा है। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री गिरीश देवांगन ने बताया कि कंट्रोल रूम में मुख्य रूप से लोकसभावार प्रभारी के रूप में नरेश गढ़पाल, सतीश चौरसिया, सोमेन चटर्जी, सरबजीत सिंह ठाकुर, एमएल देवांगन, रिजवान खान, निवेदिता चटर्जी, किरण सिन्हा, साक्षी सिरमौर, चंद्रवती साहू सभी 11 लोकसभावार मोर्चा संभाले हुये है।

नगरीय निकाय चुनाव घोषणा पत्र समिति की बैठक संपन्न

सभी सदस्यों के सुझाव होंगे शामिल
नगरीय निकाय मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया जो घोषणा पत्र समिति के संयोजक भी है। उन्होने आज घोषणा पत्र समिति की बैठक ली और उपस्थित सदस्यों से विचार विमर्श किया। लिखित में सुझाव भी लिये और उन्हें घोषणा पत्र में शामिल करने की बात कही। नगरीय निकाय चुनाव का घोषणा पत्र पूरी तरह से प्रभावशाली होगा। 2018 के घोषणा पत्र में राज्य सरकार की 10 माह की उपलब्धियां एवं विधानसभा चुनाव में किये गये वादों को शामिल करते हुये घोषणा पत्र प्रदेश की शहरी विकास के लिये बहुत जल्द समर्पित किया जायेगा। घोषणा पत्र समिति में प्रमुख रूप से कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल, प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन, महामंत्री एवं संचार विभाग अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी, महामंत्री सुभाष शर्मा, मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला, महापौर देवेन्द्र यादव, स्वपनील उपाध्याय, विकास चोपड़ा, सेवक सिंह, अजीत लकड़ा, किरणमयी नायक, रविन्द्र सिंह, महामंत्री महेन्द्र छाबड़ा उपस्थित थे।

Leave a Reply