शशि थरूर ने कहा नागरिकता विधेयक जिन्ना के विचारों की जीत होगी

नई दिल्ली : वरिष्ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा नागरिकता विधेयक जिन्ना के विचारों की जीत होगी. इसके पास होने से हिंदुस्तान पाकिस्तान का हिंदुत्व संस्करण बन कर रह जाएगा. सरकार इस कदम से एक समुदाय विशेष को निशाना बनाने में लगी है. थरूर ने कहा, ”इससे स्पष्ट होता है कि यह महज कुटिल राजनीतिक चाल है ताकि भारत में एक समुदाय को निशाना बनाया जा सके। इससे हम पाकिस्तान का हिंदुत्व संस्करण भर रह जाएंगे।

बतादें नागरिकता संशोधन बिल आज लोकसभा में पेश होगा जिसके लेकर भाजपा ने अपने सभी सांसदों को व्हिप जारी कर दिया है और दोनों सदनों में उपस्थित रहने को कहा है. एक ओर सरकार जहाँ इस बिल को पास कराने में लगी है वही इसका जमकर विरोध भी हो रहा है. प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने भी इसका बिरोध करने का फैसला लिया है. इस सम्बन्ध में सोनिया गाँधी की अध्यक्षता में पार्टी के संसदीय रणनीति समूह की बैठक बुलाई गई थी जिसमे इस विषय पर चर्चा भी हुई है. इस बिल पर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा की इस बिल से हिंदुस्तान अब इसराइल जैसा हो जाएगा.

विधेयक में विधेयक में पाकिस्तान, बांग्लादेश व अफगानिस्तान के अल्पसंख्यकों- हिंदू, बौद्ध, पारसी, जैन, सिख व इसाइयों के भारत आने पर उनको जल्द नागरिकता देने का प्रावधान किया गया है। जिसका विरोध जम कर हो रहा है. असम में नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) के खिलाफ विभिन्न प्रकार से विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं जिनमें नग्न होकर प्रदर्शन करना और तलवार लेकर प्रदर्शन करना भी शामिल है. मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल के चबुआ स्थित निवास और गुवाहाटी में वित्त मंत्री हिमंत बिस्व सरमा के घर के बाहर सीएबी विरोधी पोस्टर चिपकाए गए. ऑल असम स्टूडेंट यूनियन (आसू) ने अपने मुख्यालय से मशाल जलाकर जुलुस निकाला और गुवाहाटी की सड़कों पर प्रदर्शन किया.

Leave a Reply