संताल परगना के विकास से ही राज्य का विकास संभव : सीएम

पाकुड़      : सरकार व जनता के बीच के जेबकतरे को किसी भी कीमत पर बरदाश्त नहीं किया जायेगा. शासन व जनता के बीच सीधा संबंध बनाने का प्रयास सरकार कर रही है. उक्त  बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने गुरुवार को पाकुड़ के लिट्टीपाड़ा प्रखंड स्थित मांझी विजय मरांडी स्टेडियम में आयोजित शिलान्यास व उद‍घाटन समारोह में कही. मुख्यमंत्री ने यहां कुल 240.44 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास व 40.77 करोड़ की लागत से बनी योजनाओं का उद‍घाटन किया. उन्होंने कहा कि राज्य का विकास तभी संभव है, जब संताल परगना का विकास हो.

उन्होंने कहा कि लिट्टीपाड़ा के लोगों को अब शुद्ध पेयजल मिलेगा. सरकार ने केवल लिट्टीपाड़ा के लिए 217 करोड़ की लागत से राज्य की अब तक सबसे बड़ी ग्रामीण जलापूर्ति योजना का शिलान्यास किया. संताल परगना आज भी सबसे पिछड़ा है और सरकार ने ठाना है कि इस पिछड़ेपन को दूर किया जायेगा. उन्होंने कहा कि संताल परगना में कुछ भ्रष्ट पदाधिकारी, नेता व बिचौलिये मिल कर लूट-खसोट कर रहे हैं. ये लोग सरकार व जनता के बीच जेबकतरे की भूमिका निभाते हुए आम जनता की जेब को कतरने का काम कर रहे हैं.

ऐसे लोगों का ऑपरेशन सरकार दो माह के भीतर करने जा रही है. गरीब व आदिवासी के नाम पर सरकार गंदी राजनीति नहीं करने वाली है. सरकार दलगत राजनीति से ऊपर उठ कर काम कर रही है. उन्होंने कहा कि स्थानीय नीति को लागू कर यहां के लोगों को सरकार नौकरी देने का काम कर रही है. जल्द ही 18 हजार शिक्षकों की बहाली होगी, इसकी प्रक्रिया चल रही है.  उन्होंने दावा किया कि वर्ष 2018 तक सरकार हर घर में बिजली पहुंचायेगी और इसको लेकर पहाड़ों व अन्य स्थल पर बसे 471 गांवों में केवल सोलर के माध्यम से ऊर्जा पहुंचाने का काम सरकार कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *