हमे बैक टू बूथ होना होगा: डॉ. रमन सिंह

रायपुर-रायगढ़। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के दूसरे दिन समग्र मार्गदर्शन विषय पर राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री सौदान सिंह ने कहा हम अपनी पुरखों के त्याग की वजह से इतने मजबूत है कि हमे कोई परास्त नहीं कर सकता लेकिन हमें बूथ स्तर पर और मजबूत होने के लिए काफी मेहनत करना केन्द्र व राज्य में हमारी सरकार बेहतर काम कर रही है जिसका बदलाव जनता में भी देखने को मिल रहा है। उन्होंने ने कहा लम्बे समय से हम सरकार में है हमारा आत्मविश्वास भी काफी मजबूत है। हमारे पास बेहतर कार्यकर्ताओं की पूरी टीम है। जिन्हें निर्बल बूथ को सबल बूथ बनाने में लगाना होगा। उन्होंने कहा दीनदयाल उपाध्याय जी के दर्शन द्वार-द्वार ले जाने की जरूरत है। सकारात्मक से ही हमें सफता मिलती है।

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा हमारे कार्यकर्ताओं की जड़े बेहद मजबूत है इस वजह से हम लगातार सरकार में हैं। हम नक्सली प्रभावित इलाकों में कार्मयोगी कार्यकर्ताओं के मेहनत के कारण अपनी मौजूदगी सशक्त ढंग से दर्शा रहे हैं। उन्होंने ने कहा बैक टू बूथ के संदेश के साथ हमें बूथों की ओर लौट कर पार्टी को और मजबूत करना होगा। उन्होंने कहा हमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ कदम से कदम मिलाकर देश के विकास में योगदान देना होगा। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा सरकार की योजनाओं को समाज के अन्तिम व्यक्ति तक पहुंचाना भी अत्योदय का हिस्सा है। हमें अपने किये हुए विकास कार्यों के साथ आगामी चुनाव के लिए जनता के बीच जाना होगा।

प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा हमें अपने अतीत को याद करने की जरूरत है। हम अपने कर्मयोगी कार्यकर्ता जो इस दुनिया में नहीं है। इनकी स्मृति में उनके जीवन वृत्त का संकलन कर रहे हैं। जिसके लिए कार्यकर्ता भी सहयोग करें। उन्होंने केन्द्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के गठन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार माना है। मंत्री अमर अग्रवाल ने जी.एस.टी. विषय पर जानकारी देते कहा जी.एस.टी. के लागू होने से देश में एक नई अर्थ व्यवस्था का सूत्रपात होगा। जी.एस.टी. के लागू होने में करीब 13 वर्षों तक लम्बा समय लग गया लेकिन हम सबके लिए सुखद रहा कि तात्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी बजपेयी ने जी.एस.टी. की नींव रखी थीं और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इस सपने को पूरा किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संकल्प है एक राष्ट्र एक कर के राह पर हम चलकर राष्ट्र को प्रगति से जोड़ें।

मंत्री अग्रवाल ने कहा वित्त मंत्री अरूण जेटली के कुशलता व सहृदयता से जी.एस.टी. को लागू करने में देश सफल हो रहा है। राजनौतिक भावनाओं से ऊपर उठ कर देश के कई राज्यों ने जी.एस.टी. का समर्थन किया है। जो देश के लिए शुभ संकेत हंै। आबकारी नीति पर बोलते हुए मंत्री अमर अग्रवाल ने कहा कि कोई राज्य नहीं चाहता कि शराब से राजस्व प्राप्त किया जाये और काई नहीं चाहता बिचौलियों को फायदा हो साथ ही इसका सेवन हो शराब बंदी की नई नीति से शराब माफिया व कोचियाओं में हड़कंप मचा हुआ है। उन्होंने ने कहा शराब बंदी को लेकर सरकार संवेदनशील है लेकिन कांग्रेस व शराब माफिया मिलकर प्रायोजित ढंग से शराब बंदी पर वातावरण को बिगाडऩे में लगे हैं। दिल्ली व केरल में शराब बिक रहा है इस पर कांग्रेस की मौनता पर सवाल उठता है। इससे पहले भी मुख्यमंत्री अजीत जोगी व मोतीलाल वोरा के कार्यकाल में सरकारी स्तर पर शराब बेची गई थी। सुप्रीम कोर्ट ने जो निर्णय लिया है जिसमें राष्ट्रीय राज्यमार्ग में शराब की दुकाने निर्धारित दूरी तक नहीं खुलेगी। इस फैसले के बाद 900 सौ में से 400 सौ दुकाने बंद हो गई है इन दुकानों पर भी कोचियाओं का कब्जा होता था।

कार्यसमिति में संगठन महामंत्री पवन साय जी व अगामी कार्यक्रम की सूचना व जानकारी विषय पर अपना उद्बोधन देते हुए कहा संगठन को और मजबूत करने के लिए निर्धारित संगठनात्मक कार्यक्रमों से कार्यकर्ताओं को और जोडऩे की जरूरत है। जिला मण्डल स्तर पर दीनदयाल जनशताब्दी समरोह आयोजित किया जायेगा। राजनौतिक प्रस्ताव केन्द्रीय मंत्री विष्णुदेव साय ने प्रस्ताव प्रस्तुत किया इसका समर्थन मंत्री रामसेवक पैंकरा ने किया। राष्ट्रीय महासचिव सरोज पाण्डेय, अनुसूचित जनजाति मोर्चा राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविचार नेताम, मंत्री अजय चन्द्राकर, बृजमोहन अग्रवाल, प्रेमप्रकाश पाण्डेय, दयाल दास बघेल, महेश गागड़ा, महामंत्री गिरधर गुप्ता, संतोष पाण्डेय, सुभाउ राम कश्यप सहित पार्टी पदाधिकारी मौजूद थे।